Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर

- sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

यूएमआईएस कम्पनी का कांट्रेक्ट रदद् होने से छात्रों में है खुशी : राहुल यादव

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

यूएमआईएस कम्पनी का कांट्रेक्ट रदद् होने से छात्रों में है खुशी व्याप्त है . उक्त बातें मधेपुरा युथ एसोसिएशन(माया) के अध्यक्ष सह भाजयूमो प्रदेश कार्यसमिति सदस्य राहुल यादव ने कही .उन्होंने कहा कि
बी. एन. मंडल विश्वविद्यालय, मधेपुरा में हुए यूएमआईएस पोर्टल घोटाले को लेकर मधेपुरा युथ एसोसिएशन (माया) ने लगातार मुहिम चलाया और नए कुलपति एवं कुलाधिपति को ज्ञापन दिया। इसका परिणाम हुआ कि महामहिम कुलाधिपति ने यूएमआईएस सर्विस कम्पनी आईटीआई का कांट्रेक्ट निरस्त कर नई कम्पनी से टेंडर करने का आदेश दिया है। हम महामहिम के आदेश का स्वागत करते हैं और इसके लिए महामहिम के प्रति आभार व्यक्त करते हैं। वर्तमान कुलपति डाॅ. ज्ञानंजय द्विवेदी भी धन्यवाद के पात्र हैं। इन्होंने हमारे आवेदन पर त्वरित कार्यवाही की।

यहाँ यह उल्लेखनीय है कि यूएमआईएस कंपनी आईटीआई ने छात्रों का काफी शोषण किया। कंपनी ने छात्रों से पंजीयन के रूप में 300 रुपया लिया जाता था और विश्वविद्यालय से भी प्रति छात्र 300 रू शुल्क लिया जाता था। यह अत्यंत ही आपत्तिजनक है। हम कुलपति से माँग करते हैं कि अब विवि प्रशासन को 60 रुपया में नया कांट्रेक्ट करे। इसी के आसपास सभी विवि का शुल्क है।

विज्ञापन

विज्ञापन

मालूम हो कि यूएमआईएस कंपनी आईटीआई का कार्य संतोषजनक नहीं था और वित्तीय परामर्शी ने भी इस पर आपत्ति की थी। इसके बावजूद विवि के पूर्व कुलपति, पूर्व प्रतिकुलपति और कुलसचिव ने आईटीआई कंपनी को में एक करोड़ 15 लाख अग्रिम भुगतान कर दिया। इसकी जाँच आवश्यक हो और राशि की रिकवरी की जाए।

मधेपुरा के तथाकथित बुद्धिजीवियों से विनम्र आग्रह है कि घोटालेबाजों के पक्ष में बयानबाजी न करें। किसी ने कुलपति, प्रतिकुलपति के सेवा विस्तार की बात कर दी तो कोई उसे महादेव का स्वरूप बना दिये। सम्मानित शिक्षक वृंद आप सभी समाज के प्रहरी हैं, जब आप ही लोग इस प्रकार करने लगेंगे, तो आपके बच्चे क्या करेंगे ? भ्रष्टाचार का समर्थन करके आपको क्या मिला ?ऐसे बयानवाजों से ही न केवल विश्वविद्यालय, बल्कि पूरे क्षेत्र की बदनामी होती है।

आईटीआई का कांट्रेक्ट रद्द करना इस पोर्टल घोटाला में विद्यार्थियों की पहली जीत है। सभी छात्र संगठनों और सामाजिक संगठनों के कार्यकर्ताओं को बहुत-बहुत बधाई। लेकिन हमें इस घोटाले की उच्चस्तरीय जाँच, दोषियों पर कार्रवाई और बेजा भुगतान की रिकवरी तक बैठेंगे नहीं।

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

आर्थिक सहयोग करे

आर्थिक सहयोग करे

- Sponsored -

ADVERTISMENT

ADVERTISMENT

Comments
Loading...