Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर
- Sponsored -

- Sponsored -

- sponsored -

सारण:अमनौर में पूर्ण रूप से रहा बंदी का असर

- Sponsored -

- Sponsored -

नीरज कुमार शर्मा

कोसी टाइम्स@सारण,अमनौर 

विज्ञापन

विज्ञापन

सुप्रीम कोर्ट के द्वारा अनुसूचित जाति जन जाति, अत्याचार निवारण अधिनियम  निषयप्रभावी बनाए जाने के विरुद्ध भारत बंद को लेकर स्थानीय अमनौर प्रखंड के दलित संगठन के सैकड़ो लोग सड़क पर उतरे जिसका नेतृत्व संघ के अध्यक्ष अर्जुन राम व् मुखिया सतेन्द्र राम ने किया।अमनौर पूर्वरी पोखरा परिसर में प्रखंड के बिभिन्न गांव से चलकर लोग एकत्रित हुए,हाथो में लाठी डंटे,बहुजन समाज के झंडा तले चलकर अमनौर बाजार पहुँच चौक चौराहे पर आगजनी कर केंद्र सरकार व् सुप्रीमकोर्ट के फैसले के बिरुद्ध नारेबाजी व् प्रदर्शन किया।


अमनौर सोन्हो,अमनौर भेल्दी मुख्य मार्ग के पास साईकिल,बॉस के बल्ले लगा,यातायात पूर्ण रूप से ठप रखा,अमनौर के सभी प्रतिष्ठान पूर्ण रूप से बंद रहा,बंदी कराने के दौरान कई लोगो से नोक झोंक होते दिखा,निकलो बाहर मकानों से,जंग लड़ो बईमानों से,बहुजनो का हक छिना तो खून बहेगी सड़को पर,नारा लगाते हुए हजारो महिला पुरुष चौक पर बैठे रहे!वक्ताओ कहना है कि यह कानून दलितों के खिलाफ इस्तेमाल होने वाले जातिसूचक शब्दों और हजारों सालों से चले आ रहे अत्याचार को रोकने में मददगार रहा है, लेकिन सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अब दलितों को निशाना बनाना और आसान हो जायेगा,

इसके तहत सुप्रीम कोर्ट ने अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति अत्याचार रोकथाम अधिनियम, 1989 के तहत स्वत: गिरफ्तारी और आपराधिक मामला दर्ज किये जाने पर रोक लगा दी थी. यह कानून भेदभाव और अत्याचार के खिलाफ हाशिये पर रहने वाले समुदायों की रक्षा करता है.इस मौके पर  मुख्य रूप से,अरविन्द राम,जवाहर राम,श्याम विहारी,राम,विद्यापति राम सरपंच,निराला,देवेंद्र राम,लाल मोहन राम,गणेश राम,ललन माँझी,मदन राम,विहारी राम,पूर्व मुखिया लक्ष्मण राम,प्रेम राम,समेत हजारो महिला,पुरुष,बच्चे शामिल थे।

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

आर्थिक सहयोग करे

ADVERTISMENT

ADVERTISMENT

Comments
Loading...