Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर

- sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

अंतरविभागीय समन्वय स्थापित कर कोविड टीकाकरण महाअभियान को सफल बनाएं : डीएम

- Sponsored -

छपरा। जिलाधिकारी राजेश मीणा की अध्यक्षता में कोविड टीकाकरण और कोविड टेस्टिंग से संबंधित वीडियो कन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक की गयी। जिसमें जिलाधिकारी ने कोविड टीकाकरण के लक्ष्य को शत-प्रतिशत हासिल करने को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने कहा कि जिले में 4 और 14 दिसंबर को मेगा टीकाकरण अभियान चलाया जायेगा। इसको लेकर माइक्रोप्लान तैयार किया जाये। इसके साथ उन क्षेत्रों में विशेष रूप से टीकाकरण किया जायें जहां पर टीकाकरण कम हुआ है। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि आपसी समन्वय स्थापित कर टीकाकरण अभियान को सफल बनाया जाये। टीकाकरण के प्रति आमजनों में जागरूकता लाया जाये। सेकेंड डोज से वंचित लाभार्थियों को चिन्हित कर टीकाकरण करना सुनिश्चित किया जाये।

जिले में अब तक 30,82,064 लाभार्थियों का टीकाकरण: समीक्षा बैठक के दौरान बताया गया कि जिले में अब तक 30,82,064 लाभार्थियों का टीकाकरण किया जा चुका है। जिसमें 20,28,306 लाभार्थियों को पहला डोज तथा 10,53,758 को दूसरा डोज का टीका लगाया जा चुका है। डीएम ने बताया कि टीकाकरण के लक्ष्य को शत-प्रतिशत हासिल करने के लिए जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग प्रयासरत है। जिले में हर घर दस्तक अभियान की शुरूआत की गयी है। टीम के द्वारा घर-घर जाकर टीकाकरण किया जा रहा है। हर घर दस्तक अभियान के तहत 16 से 29 नवंबर तक 310702 लोगों का टीकाकरण किया गया है।

विज्ञापन

विज्ञापन

नये वैरिएंट को लेकर सतर्क रहने की जरूरत: जिलाधिकारी राजेश मीणा ने पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि कोरोना के नये वैरिएंट को लेकर सतर्क रहने की जरूरत है। कई देशों में ओमिक्रॉन वैरिएंट का प्रभाव देखने को मिल रहा है। जिले में इससे निपटने को लेकर तैयार रहने की जरूरत है। जिलाधिकारी ने बताया कि जिले में दो जगहों पर ऑक्सीजन प्लांट चालू कर दिया गया है। जिले में कुल 120 बड़ा सिलेंडर, 309 छोटा ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध है। 207 ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर 20 बाइपैप उपलब्ध है। जिले में कोविड जांच में तेजी लाने की जरूरत है। जिले में 20 से 29 नवंबर तक 44862 लोगों का कोविड जांच किया गया है। लक्ष्य के अनुरूप कोविड जांच सुनिश्चित किया जाये और बाहर से आने व्यक्तियों पर निगरानी रखी जायें। जिले में प्रयाप्त मात्रा में बेड, दवा, ऑक्सीजन, पल्स ऑक्सीमीटर की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया।

इस बैठक में एडीएम डॉ. गगन, सिविल सर्जन डॉ. जेपी सुकुमार, जिला शिक्षा पदाधिकारी, डीपीएम अरविन्द कुमार, आईसीडीएस के डीपीओ उपेन्द्र ठाकुर, डब्ल्यूएचओ के एसएमओ डॉ. रंजितेश कुमार, सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, बीएचएम, बीडीओ, सीओ, सीडीपीओ, बीईओ, जीविका बीपीएम शामिल थे।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

आर्थिक सहयोग करे

Comments
Loading...