Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर
- Sponsored -

- Sponsored -

- sponsored -

मधेपुरा:कलासन विद्यालय के पास फेंका जा रहा है कचरा,बीमारियों को दे रहे हैं दावत

- Sponsored -

कुमार साजन@चौसा, मधेपुरा

प्रखंड के प्राथमिक विद्यालय कलासन इन दिनों पूरी तरह से कचरा के चपेट में है। विद्यालय के मुख्य गेट एवं आसपास का क्षेत्र पूरी तरह से कचरामय बना हुआ है बुद्धिजीवियों अन्य लोगों के अनुसार तो विद्यालय के आसपास के लोगों द्वारा विभिन्न प्रकार की कचरा को विद्यालय के पास ही फेंका जाता है यहां तक की लोगों के द्वारा मल मूत्र भी विद्यालय के पास फेंक दिया जाता है जिस कारण विद्यालय पूरी तरह से कचरा के चंगुल में है बताया जा रहा है कि इससे पूर्व कई बार आसपास के लोगों को कचरा फेंकने से मना किया गया बावजूद लोगों द्वारा कचरा फेंकते -फेंकते कचरा का अंबार लगा दिया गया है।जो कि विद्यालय खुलने पर छात्रों को गंभीर बीमारियों के शिकार होने का संभावना बताई जा रही है

क्या कहते हैं प्रधानाध्यापक

विज्ञापन

विज्ञापन

प्रधानाध्यापक माखनलाल चतुर्वेदी ने बताया कि आसपास के लोगों द्वारा विभिन्न प्रकार की कचरे में फेंकी जाती है जिसे बार-बार मना करने के बावजूद भी लोग विद्यालय के पास यहां तक कि मुख्य गेट के पास कचरा फेंकने से बाज नहीं आते हैं विद्यालय के आसपास कचरा फेंकने से रोके जाने पर आसपास के लोगों द्वारा विवाद कर लिया जाता है कतरा से बदबू आती है जिस कारण विद्यालय में एक पल भी बैठना भी दुर्लभ लगता है किसी ना किसी वायरस के चपेट में आने का हमेशा भय बना रहता है

क्या कहते हैं चिकित्सक

इस बात प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ ज्ञान रंजन कुमार बताते हैं कि एक तो कोरोना की महामारी से लोग पूरी तरह से उभरे नहीं है और इस प्रकार की कचरा की ढेर को स्कूल के आस-पास जमा कर रखने से शिक्षकों एवं छात्रों के बीच विक्टेरियन इंफेक्शन मलेरिया,कालाजार जैसे वायरस के चपेट में आने की संभावना होती है।

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

आर्थिक सहयोग करे

- Sponsored -

Comments
Loading...