Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर

- sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

मधेपुरा प्रारंभिक शिक्षक संघ ने किया वर्चुअल बैठक

बैठक में आंदोलन की सफलता को लेकर त्रिस्तरीय रणनीति तैयार,सरकार के द्वारा लागू की गई चाइनीज सेवाशर्त के विरोध में निंदा प्रस्ताव पारित

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

05 सितंबर को जिले के सभी शिक्षक काली पट्टी बांधकर करेंगें नई सेवाशर्त का विरोध

शिक्षक दिवस के दिन सरकारी समारोह में शिक्षक नहीं लेंगें भाग

विज्ञापन

विज्ञापन

राज्यव्यापी चरणबद्ध आंदोलन को सफल बनाने का लिया गया संकल्प
बिहारीगंज/मधेपुरा संवाददाता
बिहार पंचायत-नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष सुबोध कुमार पासवान की अध्यक्षता में बुधवार को जिला स्तरीय वर्चुअल बैठक सम्पन्न हुई है । बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में प्रदेश अध्यक्ष आनंद कौशल व बिशिष्ट अतिथि के रूप में प्रदेश सचिव बिपिन बिहारी भारती उपस्थित हुए । बैठक में 05 सितंबर से प्रारंभ होने बाले राज्यव्यापी चरणबद्ध आंदोलन को सफल बनाने के लिए त्रिस्तरीय रणनीति तैयार की गई । सभी पदाधिकारियों के द्वारा जिला स्तरीय बैठक में बिहार सरकार को सभी शिक्षकों को पूर्ण वेतनमान देने, राज्यकर्मी का दर्जा देने, पुराना सेवाशर्त लागू करने, पेंशन देने सहित सभी 07 सूत्री मांग को 04 सितंबर 2020 तक पूरी करने की चेतावनी दी गई है । इस दौरान सरकार के द्वारा चाइनीज सेवाशर्त लागू किए जाने के विरोध में निंदा प्रस्ताव पारित किया गया । प्रदेश अध्यक्ष आनंद कौशल सिंह ने कहा कि बिहार सरकार के द्वारा चाइनीज सेवाशर्त लागू कर बिहार के चार लाख शिक्षकों के साथ धोखाधड़ी किया गया है । शिक्षकों का एक भी माँग पूरी नहीं करने वाली एनडीए की सरकार को मुँहतोड़ जबाब वोट के द्वारा विधानसभा चुनाव में दिया जाएगा । प्रदेश प्रवक्ता मो. मुस्तफा आजाद ने कहा कि शिक्षक अब एनडीए सरकार का शिक्षक विरोधी काला चेहरा देश- दुनियाँ के सामने उजागर करने के लिए 05 सितंबर को काला पट्टी बांधकर अपमान दिवस मनाएंगे और चरणबद्ध आंदोलन करेंगें ।प्रदेश सचिव विपिन बिहारी भारती जी ने कहा नीतीश कुमार अब तक का सबसे झूठा मुख्यमंत्री हैं जिसने शिक्षा और शिक्षकों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने का काम किया है।

जिलाध्यक्ष सुबोध कुमार पासवान ने कहा कि संघ के आह्वान पर राज्यव्यापी आन्दोलन के प्रथम चरण में 05 सितंबर 2020 (शिक्षक दिवस के दिन ) को सभी शिक्षक मुंह में काली पट्टी बांधकर अपमान दिवस मनाएंगे एवं सरकारी समारोह का बहिष्कार करेंगें। दूसरे चरण में 12 सितंबर 2020 को जिले के सभी प्रखंड मुख्यालय पर मुख्यमंत्री व उपमुख्यमंत्री का अर्थी जुलूस निकाला जाएगा। तीसरे चरण में 19 सितंबर 2020 को जिले के सभी प्रखंड मुख्यालय में मशाल जुलूस निकालकर एनडीए गठबंधन को वोट नहीं देने का संकल्प लिया जाएगा। जिला महासचिव संजय जायसवाल ने कहा कि आंदोलनात्मक कार्यक्रम में शिक्षक मास्क लगाकर एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए भाग लेंगें । वर्चुअल मिटिंग में संजय जैसवाल,निवास कुमार,सत्य प्रकाश गुप्ता,मुरलीधर पासवान,गुंजन कुमार सिंह,संजीव कुमार सिंह,संतोष कुमार सिंह,पवन कुमार,उपेन्द्र चौधरी,कुमार गंगाराम भारतीय,मनोज कुमार पासवान,चक्रधर पासवान,शंभू कुमार,प्रणव कुमार,श्रीनिवास कुमार,सत्यप्रकाश गुप्ता, रविकृष्ण कुमार, ब्रह्मानंद कुमार, मुरलीधर पासवान,पवन कुमार,उपेन्द्र चौधरी, शंभू कुमार, चक्रधर पासवान, संतोष कुमार सिंह,रघुवंश रजक,अनवर चाँद आदि शिक्षकों ने भाग लेकर आगामी कार्यक्रम को लेकर अपने विचार व्यक्त किये।

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

आर्थिक सहयोग करे

आर्थिक सहयोग करे

- Sponsored -

ADVERTISMENT

ADVERTISMENT

Comments
Loading...