Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर
- Sponsored -

- Sponsored -

- sponsored -

मधेपुरा : कोरोना वारियर्स ने माँगा वेतन तो अधीक्षक ने हॉस्टल खाली करने का दे दिया आदेश

- Sponsored -

- Sponsored -

मधेपुरा/ . देश में कोरोना संकट चल रहा है. प्रधानमंत्री,मुख्यमंत्री सहित हर वरीय अधिकारी कोरोना वारियर्स को सम्मान और सहयोग की अपील कर रहे है लेकिन मधेपुरा जन नायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल कॉलेज एंड अस्पताल के अधीक्षक ही वहां के स्वास्थ्यकर्मियों को प्रतारित कर रहे है. अपनी वेतन की मांग किये जाने पर अधीक्षक कर्नल डॉ अहमद अंसारी ने सभी ए ग्रेड नर्सों को हॉस्टल खाली करने का आदेश जारी कर दिया है.

जेकेटीएमसीएच के एक सौ अड़तीस ए ग्रेड नर्सों को उद्घाटन के बाद अब तक वेतन नही मिला है.तीन माह से ये लोग बिना वेतन चौबीस घंटे की ड्यूटी कर रहे है .लगातार ये लोग अधीक्षक को वेतन देने की गुहार लगा रहे थे लेकिन इनलोगों को कोई वेतन नही दिया गया.यहाँ तक कि इन लोगों को अबतक जोइनिंग लेटर भी नही मिला है.लगातार सुनवाई नही होने के स्थिति में बुधवार को सभी ए ग्रेड नर्सों ने अपने कार्यदिवस को समाप्त कर धरना दे दिया .

धरना देते हुए अपनी पीड़ा को बताया और मुलभुत समस्या को भी सामने लाया .जिसके बाद अस्पताल अधीक्षक ने इनलोगों से वार्ता के बदले कार्रवाई की धमकी देना शुरू कर दिया.धरना शुरू होने के दो घंटे बाद  प्रदर्शन कर रहे नर्सों को काम पर वापस लौटने को कहवाया गया अन्यथा प्राथमिकी दर्ज करने की धमकी दे डाला. इनलोगों ने जब उनकी धमकी को अनसुना कर दिया तो देर शाम अस्पताल अधीक्षक ने सभी नर्सों को हॉस्टल खाली करने का आदेश दे डाला .

विज्ञापन

विज्ञापन

अधीक्षक के कार्यालय से जारी आदेश पत्र में लिखा  गया है कि  सभी अनुबंध के आधार पर नियुक्त परिचारिका श्रेणी ए को आदेश दिया जाता है कि नर्सिंग हॉस्टल को तीन दिन के भीतर खाली कर दे .चूँकि आप सभी के अनुरोध पर वैकल्पिक व्यवस्था किये जाने पर नर्सिंग हॉस्टल में आवासन करने हेतु अनुमति प्रदान की गयी थी.

अब बड़ा सवाल है कि कोरोना संकट के दौर में सभी ए श्रेणी परिचारिका अस्पताल में ड्यूटी करे या अपना आशियाना ढूंढे .सबसे बड़ी बात जिस कर्मियों को अब तक वेतन का एक रुपया नही मिला है,जो खुद बिना पैसे का है उसे फ्री में कौन आशियाना देगा. आदेश के बाद सभी परिचारिका दहशत में है.उन्हें अब अपने भविष्य की भी चिंता सता बड़ी बात रही है.

इस सम्बन्ध में जब कोसी टाइम्स ने मेडिकल वेतन का एक रुपया भी कॉलेज अस्पताल अधीक्षक कर्नल डॉ अहमद जीस करनी अंसारी से बात कर नही मिला वो जानकारी लेना चाहा तो उन्होंने कहा मुझे कुछ नही बोलना है न कोई परेशानी नही है आपको जो छापना है छाप दीजिए .

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

आर्थिक सहयोग करे

ADVERTISMENT

ADVERTISMENT

Comments
Loading...