Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर

- sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

मधेपुरा : कड़ाके की ठंड के बावजूद मधेपुरा के 10 लाख लोग हुए मानव श्रृंखला में शामिल

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

मधेपुरा

मधेपुरा में भीषण ठंड और घने कोहरे के बावजूद भी मानव श्रृंखला में लोगों ने दमदार उपस्थिति दर्ज करवाई।तय समय से पूर्व ही लोग सड़क पर आ चुके थे और एक दूसरे के हाथ थाम मजबूती से खड़े थे।जिले के नौ लाख 68 हजार चार सौ 77 की आबादी ने 353 किलो मीटर लंबी मानव शृंखला में भागीदारी की.

डीएम नवदीप शुक्ला ने बताया कि मुख्य मार्ग की लंबाई 239 किलोमीटर रही. वहीं उप मार्ग की लंबाई 114 किलोमीटर रही. मुख्य मार्ग एवं उप मार्ग मिलाकर 353 किलोमीटर कि मानव श्रृंखला में छह लाख 67 हजार पांच सौ 72 की आबादी  श्रृंखलाबद्ध होकर एक दूसरे का हाथ थामे तय समय पर खड़ी थी. वहीं वार्ड स्तर पर बनाई गई श्रृंखला में एक लाख 72 हजार पांच सौ 45 तथा विद्यालय परिसर में भाग लेने वाले वर्ग एक से चार के बच्चों की संख्या एक लाख 28 हजार तीन सौ 60 रही.

विज्ञापन

विज्ञापन

जिला मुख्यालय में समाहरणालय के मुख्य द्वार पर जिलाधिकारी नवदीप शुक्ला, पुलिस अधीक्षक संजय कुमार, एडीएम उपेंद्र कुमार, जिला सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी रजनीश राय,जिला परिषद अध्यक्ष मंजू देवी, नगर परिषद कार्यपालक पदाधिकारी प्रवीण कुमार, पूर्व मुख्य पार्षद डा विशाल कुमार बबलू भी लोगों के साथ हाथ में हाथ मिला कर खड़े रहे. वहीं नगर क्षेत्र में हर वार्ड के वार्ड पार्षद अपने अपने कई जगहों पर मुस्तैद रहे. मुख्य पार्षद सुधा यादव, पार्षद शफीक आलम, पार्षद रेखा यादव, पूर्व पार्षद ध्यानी यादव, पूर्व मुख्य पार्षद डा विशाल कुमार बबलू समेत अन्य पार्षद उपस्थित थे.

सुरक्षा व्यवस्था और चिकित्सा व्यवस्था को ले चौकस थे प्रशासन

मानव श्रृंखला को जिले में सुरक्षा व्यवस्था और चिकित्सा व्यवस्था को लेकर जिले में पुख्ता इंतजाम किए गए थे. जगह-जगह दंडाधिकारी के साथ पुलिस बल की तैनाती की गई थी. सुबह से ही कर्पूरी चौक, पूर्णिया गोला चौक, सुभाष चौक, कॉलेज चौक, बस स्टैंड चौक, समाहरणालय एवं बाईपास पर कई जगह पर पुलिस बल की तैनाती दिखी. कॉलेज चौक पर दंडाधिकारी के रूप में सदर एसडीएम वृंदा लाल, एसडीपीओ वसी अहमद, बीडीओ आर्य गौतम नजर आए. जगह जगह एम्बुलेन्स मुस्तैद थे जिससे किसी भी तरीके के परेशानी को तुरंत समाप्त किया जा सके।

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

आर्थिक सहयोग करे

आर्थिक सहयोग करे

ADVERTISMENT

ADVERTISMENT

Comments
Loading...