Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर

- sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

कटिहार : लॉकडाउन के उड़ाई जा रही धज्जियाँ, खूब होती है खरीददारी

- Sponsored -

कटिहार/ सरकार के आदेशानुसार बिहार में 25 मई तक के लिए संपूर्ण लॉकडाउन का ऐलान किया गया है। लेकिन कटिहार जिले के कोढ़ा, फलका एवं कुर्सेला बाज़ार में स्थानीय पुलिस प्रशासन की रहमोकरम के कारण लॉकडाउन का असर नहीं दिख रहा है। ईद पर्व को लेकर बाज़ारों में चहल-पहल जारी है। दुकानदारों ने भी बेखौफ दुकानें खोल कर दो पैसे की आस लगाए बैठे हैं ताकि शाम के खाने का प्रतिबंध हो जाय।

जिला प्रशासन द्वारा जारी आदेश में वाणिज्यिक एवं निजी प्रतिष्ठान एवं कोचिंग संस्थान को बन्द रखने का आदेश निर्गत है। वाबजूद फलका प्रखंड में इस आदेश का उलंघन साफ तस्वीरों में दिखाई दे रही है।
आमजन सोशल डिस्टेंसिंग तो भूल ही गए हैं। बिना मास्क बेखौफ बाज़ार के चौक-चौराहों खरीददारी करते नज़र आते हैं। जहां एक तरफ प्रशासन सरकार के द्वारा जारी की गई गाइडलाइन को पूरी सख्ती के साथ लागू करने के लिए तत्पर है वहीं फलका बाजार, कुर्सेला बाजार एवं कोढ़ा में प्रशासन के मंसूबों पर पानी फेर रहा है।

दुकानदारों की यह मंसूबा प्रशासन के द्वारा सख्ती से लॉकडाउन को पूरी तरह से जमीनी स्तर पर नाकाम साबित कर रहे हैं। दिनभर दुकान खुलने से ग्रामीण भी लापरवाह हो चुके हैं, वह पूरी तरह से आश्वस्त है कि हम कभी भी मार्केट जा कर सामान ला सकते हैं। जैसे ही प्रशासन की गाड़ी आती है दुकानदार शटर गिरा कर अपने दुकान के बाहर बैठ जाते हैं और दुकानों का संचालन दिन भर करते हैं। जहां एक तरफ कोविड-19 एक्सपर्टो का मानना है कि 14 से 22 तारीख तक कोरोना बढ़ने का खतरा है, वहीं दुकानदारों द्वारा बरती जा रही लापरवाही एक बहुत बड़ा खतरा साबित हो सकता है। कहीं न कहीं प्रशासन को जरूरत है अपने-अपने थाना क्षेत्र में हाई अलर्ट जारी कर मनचले दुकानदारों पर कार्रवाई करने की।

विज्ञापन

विज्ञापन

एसडीपीओ

लॉकडाउन नियमों के उल्लंघन के बारे में पूछे जाने पर एसडीपीओ अमरकांत झा ने बताया कि कटिहार एसडीओ से बात की गई है। फलका पुलिस को भी निर्देश दिया गया है बाजार में आवश्यक वस्तुओं की दुकानें ही खुलने का निर्देश है। अनावश्यक दुकानों को बंद कराया जायेगा। प्रभारी अंचलाधिकारी गुलाम शाहिद को फलका प्रखंड से कोई मतलब ही नहीं है। बातचीत में उन्होंने कोसी टाइम्स से कहा कि मैं समेली प्रखंड में कार्यरत हूं। फलका की जानकारी स्थानीय पुलिस को दीजिए। एक जिम्मेदार अगर ऐसी बातें कहकर पल्ला झाड़ रही है तो ऐसे अधिकारियों पर कार्रवाई की जरूरत है।

वहीं जिलाधिकारी उदयन मिश्रा ने कोसी टाइम्स से बातचीत में कहा कि लॉक डाउन का उद्देश्य कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ना है। पदाधिकारियों को लॉकडाउन का कड़ायी से अनुपालन कराने का सख्त निर्देश दिया गया है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

आर्थिक सहयोग करे

Comments
Loading...