Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर

- sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

गैलेक्सी अस्पताल का किया गया निरीक्षण, अधिकारी के पहुँचने से पहले क्लिनिक छोड़ सभी फरार

- Sponsored -

कुमारखंड, मधेपुरा/प्रखंड मुख्यालय स्थित भारतीय स्टेट बैंक के बगल में बने गैलेक्सी अस्पताल का जिला पदाधिकारी के निर्देश पर शनिवार को मधेपुरा उद्योग विभाग के महाप्रबंधक कृष्ण कुमार भारती, समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कुमारखंड के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ अरुण कुमार, लैब टेक्नीशियन प्रभास कुमार आदि भौतिक सत्यापन के लिए पहुंचे. पहुंचते ही अस्पताल में करीब 1 घंटे इंतजार करने के बाद भी अस्पताल के डॉक्टर व कर्मी मौजूद नहीं हुए।सभी क्लिनिक छोड़ फरार हो गये.

इस संबंध में महाप्रबंधक कृष्ण कुमार भारती ने बताया जिला पदाधिकारी के निर्देश पर प्रखंड स्तरीय टीम गठन कर सभी प्रखंड में अस्पतालों का जांच किया जा रहा है। जांच के दौरान अस्पताल में डॉक्टर नहीं है, अस्पताल के सभी वार्ड का जांच किया गया। लेटर हेड पर किसी प्रकार की जानकारी नहीं है। बड़े-बड़े लगे बोर्ड पर भी जानकारी उपलब्ध नहीं है। अस्पताल में पदस्थापित चिकित्सक का भी नाम या लेटर हेड (पर्चीी) नहीं है। जांच का मुख्य उद्देश्य दवा दुकान निबंधन  , क्लीनिक का निबंधन आदि है । एक्स रे , पैथोलॉजी , अल्ट्रासाउंड , दवा दुकान द्वारा कैश मेमो आदि दिया जा रहा है या नही आदि का जाँच किया जाना है.  लेकिन गैलेक्सी अस्पताल में ना तो कोई डॉक्टर उपस्थित मिले ना ही कोई अस्पताल के कर्मी मौजूद थे।

विज्ञापन

विज्ञापन

बताया अस्पताल द्वारा उपयोग किए जाने वाले मरीज के लेटर हेड पर्ची पर किसी निबंधित डॉक्टर का नाम पद नहीं है। मौके पर एक कर्मी ने बताया डॉक्टर बाहर गए हुए हैं मोबाइल से बात करने के बाद सभी कागजात के साथ उपस्थित रहने का निर्देश दिया गया। मौके पर मौजूद प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ अरुण कुमार ने बताया सिर्फ गैलेक्सी अस्पताल का बड़े-बड़े बोर्ड लगे हुए हैं डॉक्टर का नाम पर  कुछ नहीं मिला। सभी कागजात के साथ अस्पताल में मौजूद रहने को कहा गया है। किसी प्रकार का कोई अभी कागजात नहीं दिखाया गया है। जल्द ही जांच किया जाएगा गलत पाया गया तो विधिवत कार्यवाही की जाएगीी।

मौके पर जिला उद्योग विभाग के महाप्रबंधक कृष्ण कुमार भारती, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ अरुण कुमार, लैब टेक्नीशियन प्रभास कुमार मौजूद थे। जांच से प्रखंड के सभी प्राइवेट नर्सिंग होम चलाने वाले में हड़कंप मच गया है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

आर्थिक सहयोग करे

Comments
Loading...