Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर
- Sponsored -

- Sponsored -

- sponsored -

त्रिवेणीगंज में नहीं थम रहा है अवैध बालू का खनन

- Sponsored -

- Sponsored -

त्रिवेणीगंज,सुपौल/ अनुमंडल क्षेत्र में अवैध बालू का खनन कर उसे बाजार में बेचने का कारोबार नहीं थम रहा है। प्रखंड के लक्ष्मीनियां , योगियाचाही, जदिया , कोरियापट्टी सहित अन्य जगहों पर व्यापक पैमाने पर नदी से बालू निकालकर बेचने का काम किया जाता है। जानकारों के मानें तो यह सब खनन विभाग के जानकारी में हो रहा है। हालांकि अवैध बालू खनन माफिया के विरुद्ध औपचारिकता करने के लिए कभी-कभार छापेमारी की जाती है परंतु उसके तुरंत बाद फिर से अवैध खनन का काम शुरू कर दिया जाता है। दरअसल प्रखंड के लक्ष्मीनियां अवैध बालू खनन के लिए सबसे फेमस माना जाता है।

बालू लड्ढे एक ट्रेक्टर जब्त : प्रखंड में बालू की हो रहीं अवैध खनन के विरुद्ध कभी – कभी जिला खनन पदाधिकारी की कुम्भकर्णी नींद टूटती तो जरूर हैं, लेकिन फिर महीने भर तक झांकना भी मुनासिब नहीं समझते हैं। मंगलवार को सुबह साढ़े सात बजे जिला खनन पदाधिकारी सुधांशु कुमार श्रीवास्तव ने लक्ष्मीनियां चौक समीप से सफेद बालू लड्ढे एक ट्रैक्टर बीआर 43 जी 5227 जब्त कर स्थानीय थाना को सुपुर्द कर दिया हैं।

विज्ञापन

विज्ञापन

घाट हुआ नहीं, मांग रहें हैं चालान : सफेद बालू की हो रहीं अवैध खनन में खनन पदाधिकारी भी टाल – मटोल कर रहें, एक तरफ उन्होंने घाट की अनुमति नहीं मिलने की बात कह रहें हैं, दूसरी तरफ चालान का मांग कर रहें। मजे की बात तो यह हैं कि बालू अवैध खनन कर बेचने जा रहें ट्रैक्टर को जब्त कर उक्त ट्रैक्टर पर एफआईआर करने के बजाए खनन पदाधिकारी जुर्माने लेकर छोड़ने की बात बता रहें। खैर इससे अंदाजा लगाया जा सकता हैं कि अवैध खनन के विरुद्ध खनन विभाग कितने गंभीर हैं।

क्या कहते हैं खनन पदाधिकारी : इस संबंध में जिला खनन पदाधिकारी सुधांशु कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि घाट का ऑप्शन हुआ हैं, लेकिन अभी अनुमति नहीं मिली हैं, बालू खनन को लेकर छापेमारी की जा रहीं हैं, एक ट्रैक्टर जब्त हुआ हैं, उसे जुर्माना किया जाएगा।

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

आर्थिक सहयोग करे

- Sponsored -

ADVERTISMENT

ADVERTISMENT

Comments
Loading...