Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर

- sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

सरकार प्राईवेट स्कूल के शिक्षक एंव कर्मचारियों का शीघ्र करे वेतन भुगतान

- Sponsored -

- Sponsored -

राजेश शर्मा/जोगबनी/अररिया/ प्राईवेट स्कूल एंड चिलड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष सिबतैन अहमद ने  जेनिथ पब्लिक स्कूल जोगबनी में प्रेस कानफ्रेंस आयोजित करते हुए केन्द्रीय सरकार को प्राईवेट स्कूल और उस में कार्य करने वाले शैक्षणिक एंव गैर शैक्षणिक कर्मचारियों के स्थिति से अवगत कराते हुए कहा कि विद्यालय में मार्च 2020 से लाँकडाउन होने के बाद आज तक स्कूल फीस न आने के वजह के कारण स्कूल में कार्य करने वाले शिक्षक एंव कर्मी को वेतन भुगतान करने में स्कूल असमर्थ है। जिस कारणवस स्कूल कर्मी भुखमरी के कगार पर है । इसके साथ -साथ स्कूल प्रबंधक पर भी जमीन,बील्डिंग का किराया/बैंक की लौन किश्त /गाड़ियों की किश्त/भाडा /रोड टैक्स/बिजली बिल आदि का कर्ज बढ़ता जा रहा है। जिसमें सरकार के द्वारा किसी भी प्रकार की कोई छूट नहीं मिली है। आँनलाईन कक्षा होने पर भी अभिभावक फीस जमा नहीं कर रहे हैं। जिसके वजह से शिक्षकों का वेतन भुगतान नहीं हो पा रहा है। ऐसी परिस्थितियों में प्राइवेट स्कूल के प्रबंधक, शिक्षक एंव कर्मचारी मानसिक रुप से तनाव में हैं और सरकार से सहायता न मिलने पर कोई जानलेवा कदम उठा सकते हैं।
विज्ञापन

विज्ञापन

वही  सय्यद शमायल अहमद के निर्देश पर अररिया प्राईवेट स्कूल चिलड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन की कमिटी ने आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी  भारत सरकार से अनुरोध किया है कि सरकारी स्कूल प्रति बच्चे प्रति माह के खर्च के अनुसार सरकार सारे प्राईवेट स्कूलों के अकाउंट में बच्चे के संख्या के अनुसार चार महिने का फंड ट्रांसफर करने का प्रावधान बनाए और अगर आगे भी लाँकडाउन के अवधी तक यह सुविधा जारी रहे।
इस अवसर पर एसोसिएशन के उपाध्यक्ष कुमार अनुप, ब्लाक अध्यक्ष ,खुर्शीद आलम खान, ब्लाक सचिव अजित सिन्हा एवं कुणाल केडिया राशिद जुनैद आदि उपस्थित थे।

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

आर्थिक सहयोग करे

ADVERTISMENT

ADVERTISMENT

Comments
Loading...