Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर

- sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

कुशल सामाजिक कार्यकर्ता थे स्वतंत्रता सेनानी रामजी प्रसाद

- Sponsored -

- Sponsored -

 

मधेपुरा

स्वतंत्रता सेनानी रामजी प्रसाद मंडल के निधन उपरांत उनके निजी आवास बैसाढ में श्रद्धांजलि सभा व शांति भोज का भव्य आयोजन किया गया। श्रद्धांजलि सभा में मुख्य अतिथि बीएन मंडल विश्वविद्यालय पूर्व कुलपति डॉ अनंत कुमार ,माध्यमिक शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष कृष्ण कुमार, पूर्व विधायक विजय कुमार सिंह ,जदयू प्रखंड अध्यक्ष नवीन कुमार यादव सहित अन्य लोगों ने तैलिय चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

विज्ञापन

विज्ञापन

स्मृति शेष स्वतंत्रता सेनानी रामजी प्रसाद मंडल के पुत्र राजीव कुमार उर्फ बबलू ने बताया कि 1947 की आजादी की लड़ाई में उनके पिता गांधी जी के साथ थे उन्होंने बताया कि वह हमेशा कहा करते थे कि मानव सेवा ही सबसे बड़ा धर्म है और वह एक सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में उन्होंने अपनी पहचान बनाई।

बताया राज्य हित में उन्होंने अपनी स्वतंत्रता सेनानी की पेंशन मुख्यमंत्री राहत कोष में दान कर दिया। गौरतलब हो कि बीते 20 नवंबर को 102 वर्ष की उम्र में स्वतंत्रता सेनानी सामाजिक कार्यकर्ता रामजी प्रसाद मंडल का निधन हो गया था। जिसके बाद उनके निज आवास पर श्रधांजलि सभा का आयोजन किया गया । मौके पर माध्यमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष कृष्ण कुमार ने कहा कि रामजी बाबू ऐसे स्वतंत्रता सेनानी थे जिन्होंने अपने पेंशन मुख्यमंत्री राहत कोष में समाज हित के लिए दान कर दिया और ऐसे समाजसेवी स्वतंत्रता सेनानी की कमी हमारे समाज को हमेशा खलेगी।

मौके पर जदयू प्रखंड अध्यक्ष नवीन कुमार यादव, मुखिया पवित्री देवी व मुखिया पति निर्धन मंडल, राम अवतार शर्मा उर्फ बोआ, चंदकुमार यादव ,डॉ प्रियदर्शी, डॉ संजीव कुमार यादव ,आयकर आयुक्त पटना बिहार डॉ दौलत कुमार, डॉ उपेंद्र कुमार ,डॉ राजेश, अर्जुन यादव ,कृष्ण कुमार बंटी, रजनीश कुमार ,इंद्रदेव कुमार, फ्रेंड्स युवा क्लब संयोजक रविकांत कुमार, अमरदीप सिंह उर्फ फंटूश, शंकर कुमार ,सहित सैकड़ों लोग मौजूद थे।

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

आर्थिक सहयोग करे

Comments
Loading...