Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर
- Sponsored -

- Sponsored -

- sponsored -

शर्मनाक : विश्वस्तरीय मधेपुरा मेडिकल कॉलेज से भगाए जा रहे हैं कोरोना संदिग्ध

- Sponsored -

- Sponsored -

प्रशांत कुमार

मधेपुरा

पिछले सात मार्च को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार के मधेपुरा में बड़े ही तामझाम के साथ जन नायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल कॉलेज एंड अस्पताल का उद्घाटन किया और विश्वस्तरीय सुविधा मिलने का दावा अंत तक करते रहे. लेकिन उद्घाटन के महीना भी नही बिता है कि विश्वस्तरीय तो दूर जिलास्तरीय सुविधा भी मिलना मुश्किल हो रहा है.पहले तो यहाँ आईसोलेशन सेंटर नही था जो कोसी टाइम्स पर खबर आने के बाद आनन फानन में 106 बेड का बना दिया गया लेकिन वो आईसोलेशन सेंटर बस दिखावा के लिए साबित हो रहा है.बीती रात जब एक कोरोना संदिग्ध को सदर अस्पताल मधेपुरा से मेडिकल कॉलेज के आईसोलेशन सेंटर भेजा गया तो उन्हें डरा धमकाकर भगा दिया गया.

विज्ञापन

विज्ञापन

बीती रात सदर अस्पताल मधेपुरा का आइसोलेशन वार्ड फुल था. इस स्थिति में मरीज को जन नायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल कालेज अस्पताल रेफर किया गया लेकिन मेडिकल कालेज में मरीज को भर्ती नहीं लिया गया. उसे लौटा दिया गया. मेडिकल कालेज के लोगों ने उसे घर पर ही क्वेरेनटाइन रहने को कहा. मज़बूरी में मरीज और उसके परिजन सदर अस्पताल वापस लौट आए. इस स्थिति में बड़ा सवाल निकलकर सामने आ रहा है कि 100 बेड का यह आईसोलेशन सेंटर किसलिए बनाया गया है.

लाखों की जनसंख्या वाले इस जिले के सदर अस्पताल में मात्र 13 बेड स्थापित किया गया है जो कभी कभी फुल हो जाता है.बीती रात भी यही स्थिति उत्पन्न हो गयी जिसके बाद उस मरीज को जन नायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल एंड अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में रेफर किया गया.लेकिन अस्पताल प्रबन्धन ने उसे बेरंग वापस लौटा दिया .

इस सम्बन्ध में कोई भी सम्बन्धित अधिकारी कुछ भी बोलने से परहेज कर रहे है.अधीक्षक कर्नल अंसारी से जब इस सम्बन्ध में पूछा गया तो उन्होंने मेडिकल कॉलेज प्राचार्य से बात करने का सलाह दिया और जब इस सम्बन्ध में मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य अशोक यादव से बात की गयिओ तो वो अस्पताल अधीक्षक से बात करने का सलाह दिया.अब बड़ा सवाल सामने आता है कि अधिकारी इतना ताल मटोल क्यों कर रहे है और मरीजों को अस्पताल में भर्ती क्यों नही ले रहे है.

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

आर्थिक सहयोग करे

ADVERTISMENT

ADVERTISMENT

Comments
Loading...