Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर
- Sponsored -

- Sponsored -

- sponsored -

कार्यक्रम पदाधिकारी के रूप में डॉ. स्वर्णमणि को किया गया नियुक्त

- Sponsored -

- Sponsored -

मधेपुरा/ ठाकुर प्रसाद महाविद्यालय, मधेपुरा की राष्ट्रीय सेवा योजना को गति प्रदान करने हेतु महाविद्यालय में इतिहास विभाग की असिस्टेंट प्रोफ़ेसर डॉ. स्वर्ण मणि को एनएसएस इकाई-III का नया कार्यक्रम पदाधिकारी नियुक्त किया गया है। मंगलवार को एनएसएस के विश्वविद्यालय समन्वयक डॉ. अभय कुमार ने डॉ. स्वर्ण मणि को इस आशय का पत्र समर्पित किया। उन्होंने बताया कि इस संबंध में प्रधानाचार्य डाॅ. के. पी. यादव के अनुरोध पर कुलपति प्रोफेसर डॉ. आर. के. पी. रमण के आदेशानुसार विश्वविद्यालय का पत्रांक : एनएसएस-19/17-3922/ 2020, दिनांक : 23. 11. 2020 जारी कर दिया गया है और इसकी प्रतिलिपि क्षेत्रीय निदेशक, बिहार एवं झारखंड को भी भेज दी गई है।

मालूम हो कि डॉ. स्वर्ण मणि ने टीपी कॉलेज के शैक्षणिक विकास में भी काफी योगदान दिया है, आगे भी देती रहेंगी। डॉ. स्वर्ण मणि ने बीपीएससी से असिस्टेंट के रूप में चयनित होने के बाद 3 दिसम्बर, 2019 को टी. पी. कॉलेज, मधेपुरा के इतिहास विभाग में योगदान दिया है। इनकी प्रारंभिक शिक्षा इनके घर (मधेपुरा) में ही हुई। इन्होंने राजकीय कृत केशव कन्या उच्च माध्यमिक विद्यालय , मधेपुरा से मैट्रिक और मधेपुरा कॉलेज मधेपुरा से इंटर एवं स्नातक किया। पीजी, बीएड इन्होंने टीपी कॉलेज मधेपुरा से की। पीएचडी इन्होंने बीएनएमयू से की। इस तरह इनकी स्नातक से पीएचडी तक कि डिग्री एक छोटे से शहर मधेपुरा से की।

विज्ञापन

विज्ञापन

पीजी के बाद इन्होंने मधेपुरा से ही विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं का तैयारी करने लगी। इन्होंने तैयारी के दौरान यूजीसी नेट, बीएड, सीटेट, बीपीएससी, बिहार दारोगा, स्टैटिक्स एएसभी, कार्यपालक सहायक, बिहार टेट, एसटीईटी, जैसे विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं को क्वालीफाई करने का काम की हैं। बीपीएससी पीटी क्वालीफाई करने के बाद इन्होंने बीपीएससी मुख्य परीक्षा व इंटरव्यू की तैयारी करने के लिए पटना गईं।
इसी बीच बीपीएससी के द्वारा असिस्टेंट प्रोफेसर में बीएनएमयू के लिए चयनित हुई।पहले मिडिल स्कूल उदाकिशुनगंज में सहायक शिक्षिका, फिर प्लस टू में पटना नगर निगम में चयनित, फिर अमारी हाई स्कूल, मुरलीगंज में सहायक शिक्षिका रही। इस तरह एक छोटे से शहर में जन्मी और छोटे शहरों में पढ़ाई करने के बाबजूद इन्होंने अपनी मेहनत के दम पर शैक्षणिक उपलब्धि को हासिल किया।

डाॅ. स्वर्ण मणि का पूरे परिवार का मधेपुरा के शैक्षणिक एवं सामाजिक उन्नयन में महत्वपूर्ण योगदान दे रहा है। इनकी माँ श्री मति मंजू देवी, वर्तमान में जिला परिषद्, मधेपुरा की अध्यक्षा हैं, पिता श्री प्रकाश नारायण यादव, सेवानिवृत्त मार्किंटिंग सचिव सह जिला परिषद् सदस्य हैं। वे चारों भाई बहनों में सबसे छोटी हैं, बड़े भाई राजकमल, असिस्टेन्ट प्रोफेसर पटना वीमेंस कॉलेज पटना में कार्यरत हैं।मझले भाई नीलकमल संवेदक हैं,
छोटे भाई श्वेत कमल उर्फ बौआ यादव, नगर पंचायत मुरलीगंज के चेयरमेन हैं। इनके पति श्री आदित्य कुमार बिहार में डीएसपी पद पर कार्यरत हैं ।

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

- Sponsored -

आर्थिक सहयोग करे

ADVERTISMENT

ADVERTISMENT

After Related Post Desktop 728X150
Comments
Loading...