Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर
- Sponsored -

- Sponsored -

- sponsored -

धारा 370 पर केन्द्र सरकार के फैसले को लेकर किसी ने मोदी सरकार पर प्रहार किया तो किसी किया समर्थन

- Sponsored -

- Sponsored -

संजय कुमार सुमन

कोसी टाइम्स न्यूज़ डेस्क 

जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष सह पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्‍पू यादव ने मोदी सरकार द्वारा धारा 370 कानून को हटाने पर जोरदार हमला बोला है। पप्‍पू यादव ने अपने पटना स्थित आवास पर प्रेस वार्ता कर कहा कि धारा 370 पर दो नासमझ लोगों ने देश के खिलाफ फैसला लिया है। यह मोदी सरकार द्वारा देश के संघीय ढ़ांचे पर सबसे तीखा हमला है। आज केंद्र की सरकार ने संस्‍कृति, सविंधान, संघीय व्‍यवस्‍था और वसुधैव कुटुंबकम के नींव पर सबसे बड़ा चोट किया है।पप्‍पू यादव ने पीएम नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाही की बुद्धी पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि देश का संविधान संघीय व्‍यवस्‍था, राज्‍यों के विचार व सहमति और लोगों की भावनाओं से बना है। तभी हमारा संविधान ताकतवर है। लेकिन आज देश में संविधान पर सबसे बड़ा हमला हुआ है, जिसके तहत न विपक्ष से राय शुमारी और न सदन में चर्चा और न ही जम्‍मू कश्‍मीर के लोगों से कोई राय। अगर ऐसे ही देश चलेगा तो संसद और राज्‍य सभा की देश में जरूरत ही क्‍या है। उन्‍होंने कहा कि आखिर ये दोनों व्‍यक्ति अहंकार में तानाशाह क्‍यों होते चले जा रहे हैं।

 

पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम माँझी ने कहा कि सत्ता के नशे में चूर मोदी सरकार के द्वारा जम्मू कश्मीर को छिन्न भिन्न किया जा रहा है।संविधान को तार-तार करने वाले ये लोग देश के टुकड़े-टुकड़े करने में आमादा हैं। जिसे किसी भी कीमत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।माँझी ने कहा कि जब कानून के तहत कश्मीर को यह अधिकार मिला है कि संचार,विदेश नीति और रक्षा नीति को छोडकर किसी मामले पर केन्द्र सरकार बिना कश्मीर विधानसभा के प्रस्ताव के हस्तक्षेप नहीं कर सकती है तो फिर बिना विधानसभा के प्रस्ताव के आखिर केन्द्र सरकार ने इतना बड़ा फैसला कैसे ले लिया?क्या यह सत्ता के नशे में लिया गया फैसला नहीं है।
माँझी ने कहा कि आज का दिन देश के इतिहास में काला दिन के तैर पर लिखा जाएगा जब किसी सरकार ने ज़बरदस्ती देश के उपर तुगलती फैसला थोपा हो।माँझी ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से अनुरोध करते हुए कहा कि नीतीश जी अब तो अपनी अंतरात्मा को जगाइए और इस तानाशाह सरकार के खिलाफ आवाज़ बुलंद किजिए आज देश को आपकी जरूरत है।आज देश के आंतरिक सुरक्षा और संविधान को तोड़ने की कोशिश की जा रही है । जिसका हम सड़क से लेकर सदन तक विरोध करेंगें।
प्रमेन्द्र कुमार

फुलौत,चौसा,मधेपुरा के प्रमेन्द्र कुमार कहते हैं कि भारत सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर पर लिया गया फैसला बिल्कुल सही है। एक राष्ट्र, एक संविधान, एक ध्वज के अनुपालन हेतु धारा 370 एवं 35A को हटाना अनिवार्य था। माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने अपने इच्छा को दिखाया। इसके काफी दूरगामी परिणाम होंगे। इस फैसले से आतंकवाद पर भी लगाम लगेगी। सच कहा जाए तो आज के दिन जम्मू कश्मीर का विलय वास्तविक रूप से भारत में हुआ।

 

शिक्षा सेवा से जुड़े गौतम कुमार गुप्त कहते हैं कि आज का दिन ऐतिहासिक हो गया, स्वर्णाक्षरों में अंकित हो जाएगा लेकिन मोदी जी से मैं एक और बड़ा की उम्मीद करता हूँ, POK and Auxai China को भी भारत में शामिल करवाएँ।ये मोदी -शाह से ही संभव है ।

गौतम कुमार गुप्त
विज्ञापन

विज्ञापन

चौसा,मधेपुरा से तबशीर अहमद  कहते हैं कि कश्मीर मे धरा 370 एवं 35 ए को भारत सरकार के द्वारा हटाए जाने से बहुत अच्छा हुआ ।पुरे देश में एक तिरंगा एक कानून से मुझे तो बहुत ख़ुशी है ।

तबशीर अहमद

जदयू मीडिया सेल,नवगछिया जिला संयोजक रवि कुमार कहते हैं कि ये भाजपा का निजी एजेंडा है. जदयू का इससे कोई लेना देना नहीं है. भारत सरकार के इस फैसले के क्या परिणाम होंगे ये भविष्य का विषय है. जदयू विकास के मुददों पर एनडीए के साथ है. किसी भी विवादास्पद मसले पर हम कोई त्वरित प्रतिक्रिया नहीं दे सकते हैं.

रवि कुमार
शहंशाह कैफ

पत्रकार शहंशाह कैफ कहते हैं कि सरकार के इस फैसले का हम सम्मान करते हैं लेकिन अफसोस इस बात को लेकर है कि हमारे देश के कुछ ऐसे नेता हैं जो इन जैसे ऐतिहासिक फैसले का भी विरोध कर रहे हैं। आज इन 370 एवं 35ए जैसे धारा हट जाने से पूरे पाकिस्तान में काला दिवस मनाया जा रहा है, लोग त्राहिमाम हो रहे हैं। यहाँ तक कि जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती भी अपने राज्य में काला दिवस जैसे बातों का जिक्र कर रही हैं। ये भारत देश के लिए सौभाग्य की बात है।लेकिन भारत सरकार के इस फैसले का मजा तब औऱ भी आता जब सारे जम्मूकश्मीरी नेता एवं भारत के नेताओं द्वारा भारत सरकार के इस ऐतिहासिक फैसले का पूरी समर्थन होता।

केंद्र की भाजपा सरकार ने जम्मू-कश्मीर पर सोमवार को बड़ा फैसला लेते हुए वहां से अनुच्छेद 370 हटाने का फैसला ले लिया। दूसरे फैसले में जम्मू-कश्मीर से लद्दाख को अलग करते हुए उसे केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा दे दिया गया। सरकार के इस फैसले पर सुपौल के पूर्व सांसद विश्वमोहन कुमार ने खुशी व्यक्त करते हुये कहा कि मोदी जी द्वारा चुनाव के दौरान जो वायदे किये थे, वो अब साकार हो रहा है।मोदी जी का नेतृत्व और अमित शाह का दृढ़ इच्छाशक्ति के बदौलत देश लगातार मजबूत हो रहा है, वही भाजपा के जिला अध्यक्ष राम कुमार रॉय ने कश्मीर से धारा 370 तथा 35A हटाये जाने के लिए पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को धन्यवाद दिया तथा कहा कि केंद्र सरकार ने कठोर निर्णय लिया है।

सरकार के इस निर्णय के पीछे मोदी जी की इच्छाशक्ति के कारण यह सब संभव हो सका है। एक झटके में कश्मीर समस्या का समाधान कर मोदी जी ने दिखा दिया है कि अगर मजबूत और नियत साफ हो सरकार कि , तो कुछ भी मुमकिन है। भाजपा कार्यकर्ताओं ने इस फैसले को देशहित में बतलाया।

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

आर्थिक सहयोग करे

ADVERTISMENT

ADVERTISMENT

Comments
Loading...