Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर

- sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

दिनभर जाम से परेशान रहे श्रद्धालु

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

कुमार साजन/चौसा ,मधेपुरा/ लॉक डाउन समाप्त होते ही मंदिर व व मस्जिद में पूजा अर्चना शुरू हो गया है। सोमवार को चौसा प्रखंड के लौआलगान के बहुचर्चित बाबा विशु राउत मंदिर परिसर में लोगों का हुजूम लगना शुरू हो गया है। सोमवार को लौआलगान से मंदिर तक करीब 3 किलोमीटर लंबी जाम वाहन व श्रद्धालुओं की जाम लगी रही।लोग जाम में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना दूर-दूर मास्क तक नहीं लगाये  हुए थे। हालांकि ग्रामीणों का कहना है अगर पुलिस प्रशासन सोमवार और शुक्रवार को मंदिर पर नियुक्त किया गया होता तो आज मंदिर पहुंचने वाले श्रद्धालुओं को भीड़ का सामना नहीं करना पड़ता।

लॉक डाउन समाप्त होते ही मंदिर आचानक श्रद्धालु काफी संख्या में पहुंचने लगे हैं। सोमवार को तकरीबन पांच हजार से अधिक श्रद्धालुओं बेरागन में पहुंचे हुए थे।और लौआलगान मोर से मंदिर तक करीब 3 किलोमीटर छोटे बड़े वाहनों की लंबी कतार लगी रही। जाम के दौरान चालाक और श्रद्धालुओं के बीच नोक झोंक हुई। एक दूसरे के सहयोग से जाम के दौरान हो रही हूं आपको लोगों ने समझा-बुझाकर एक दूसरे को शांत कराया गया।

बताया जाता है कि शुक्रवार और सोमवार को मंदिर पर बेरागन की वजह से लोगों का काफी संख्या में श्रद्धालु लगने लगी है। वहीं श्रद्धालु सीमावर्ती जिले के मधेपुरा, भागलपुर सहित खगड़िया व पूर्णिया जिले के श्रद्धालु पहुंचने लगे हैं। पूजा पाठ के दौरान सोशल डिस्टनसिंग नियमों की खुल कर धज्जियाँ उड़ाई जा रही है जबकि प्रशासन मौन बनी हुई है।बाबा विशुराउत मंदिर में सोमवार व शुक्रवार को होने वाली वैरागन के दौरान सोमवार को बाबा विशू राउत मंदिर में श्रद्धालुओं की काफी भीड़ लगी रही जिस कारण मंदिर मार्ग पर लंबी जाम लग रही।

विज्ञापन

विज्ञापन

जाम लगने के कारण बाबा विशू राउत के समाधि स्थल पर दूध चढ़ाने पहुंचे श्रद्धालुओं को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। एक तरफ सड़क के किनारे दोनो तरफ से बाढ़ का पानी व सड़क चौड़ाई कम होने के कारण दोनो तरफ से वाहनों की लंबी कतार लग गयी ।वही दूसरी ओर कोई प्रशासनिक व्यवस्था नही होने के कारण दोनो तरफ से वाहन चालक के द्वारा यत्र तत्र वाहन को खड़ा किये जाने के कारण दिनभर भीषण जाम लगी रही। ज्ञात हो कि जिले के सीमावर्ती क्षेत्र में स्थापित लोक देवता बाबा विशुराउत मंदिर में प्रत्येक सोमवार व शुक्रवार को पशुपालकों के द्वारा मन्नते पूरी होने पर दूध का चढ़ावा किया जाता है जिस में की जिले व आसपास के जिले से हजारों की संख्या में पशु पालकों के द्वारा दूध चढ़ाया जाता है।

इसी कड़ी में सोमवार को लगभग पांच हजार से अधिक संख्या में बाबा विशु राउत की समाधि पर दूध अर्पित करने पहुंचे।ऑटो व बाइक चालकों के मनमाने पन के कारण खपड़िया मोड़ से ही बाबा विशु राउत मंदिर तक भीषण जाम लगी रही जिस कारण श्रद्धालु व आमजन दिनभर जाम के कारण हलकान रहे। वही उदाकिशुनगंज एसडीएम राजीव कुमार रंजन ने बताया कि चौसा थानाध्यक्ष और सीओ को लेटर जारी कर सोमवार और शुक्रवार को गश्ती दल और दंडाधिकारी प्रतिनियुक्त करने का आदेश दिया गया है।

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

आर्थिक सहयोग करे

आर्थिक सहयोग करे

- Sponsored -

ADVERTISMENT

ADVERTISMENT

Comments
Loading...