Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर
- Sponsored -

- Sponsored -

- sponsored -

वरिष्ठ पत्रकार दीपक कुमार हार गए कोरोना से जंग, सिल्लीगुड़ी में चल रहा था इलाज

- Sponsored -

पटना/ देश मे जारी कोरोना के कहर ने एक और दिग्गज पत्रकार को लील लिया। मधुबनी के वरिष्ठ पत्रकार दीपक कुमार का शुक्रवार को कोरोना से निधन हो गया। उनके निधन की खबर सुनते ही पत्रकारिता जगत में शोक की लहर दौड़ गई। वे कुछ दिन पहले कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए थे। जिनका इलाज रामपट्टी स्थित कोविड केयर सेन्टर में चल रहा था।

बताया जाता है कोविड केयर सेंटर में इलाज के दौरान तबीयत में अपेक्षित सुधार नहीं हुआ बेहतर इलाज के लिए अपने रिश्तेदार के पास सिल्लीगुड़ी
चले गए थे। जहां शुक्रवार को एक निजी अस्पताल में दीपक ने आखिरी सांस ली। दीपक कुमार मधुबनी में हिन्दुस्तान अखबार में बतौर प्रभारी कार्यरत थे। दीपक कुमार मुल निवासी भागलपुर के थे। परंतु उनके माता-पिता देवघर में अपना घर बनाकर रह रहे थे।

विज्ञापन

विज्ञापन

इधर दीपक कुमार के निधन पर इंडियन फेडरेशन ऑफ वर्किंग जर्नलिस्ट(आई एफडब्लूजे) के जिला अध्यक्ष हेमंत कुमार सिंह एवं सचिव आकिल हुसैन ने गहरी संवेदना व्यक्त की है। संगठन ने कहा है कि पत्रकारिता जगत ने एक बेहतर पत्रकार को खो दिया है, जिसकी भरपाई में काफी वक्त लग जाएगा।

दीपक कुमार के निधन पर पत्रकार संघ ने जताया शोक : दीपक कुमार के निधन पर शोक व्यक्त करने वालों में पत्रकार तुरबसू, संजय कुमार, रविकांत कुमार,शंकर कुमार,प्रशांत कुमार, मनीष कुमार, रामानंद सिंह, शैलेन्द्र कुमार, लम्बोदर झा, अमरनाथ झा, प्रो आशुतोष सिंहा, रमन कुमार, कार्तिक कुमार, शंभू कुमार, राम शरण साह, राम प्रकाश चौरसिया, शाहिद कामरान,सुनीति कुमार मिश्र, अभय कुमार सोनू, कल्याण जी, अशोक कुमार, मो अख़लाक़, मो फिरोज आलम, राजेश कुमार कर्ण, मो अली, इन्द्र मोहन मिश्र, मो निहाल, मो नदीम, जेपी सेनानी हनुमान प्रसाद राउत, मनोज कुमार पूर्वे आदि शामिल हैं।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

आर्थिक सहयोग करे

- Sponsored -

Comments
Loading...