Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर

- sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

भारत सरकार के सहयोग से नेपाल के ईलाम में संस्कृत विद्यालय का निर्माण

सोमवार को किया गया उद्घाटन

- Sponsored -

- Sponsored -

राजेश कुमार शर्मा/जोगबनी/अररिया

विज्ञापन

विज्ञापन

भारत सरकार के सहयोग से प्रदेश संख्या एक के ईलाम जिले के बरबोटे गांव में संस्कृत विद्यालय का निर्माण कार्य सम्पन्न किया गया है । भारत-नेपाल मैत्री विकास सहकार्य कार्यक्रम अन्तर्गत 31.13 मिलियन की लागत से सप्तमाई गुरुकुल संस्कृत विद्यालय का निर्माण भारत सरकार ने कराया है । भारतीय राजदूतावास के प्रतिनिधियों के द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए विद्यालय का उद्घाटन औपचारिक रूप से किया वही इस उद्घाटन कार्यक्रम में बिद्यालय परिसर में गांवपालिका के प्रतिनिधि, व्यवस्थापन समिति के लोग उपस्थित थे।बता दे कि उक्त विद्यालय 2009 में प्राथमिक विद्यालय के रुप में स्थापित हुई थी व 2015 में माध्यमिक बिद्यालय में स्तरोन्नति की गई थी । यहाँ अध्ययनरत विद्याथियों को वैदिक तथा आधुनिक शिक्षा संस्कृत–भाषा में अध्यापन कराना ही विद्यालय की नवीनतम पक्ष है । यहां सिर्फ ईलाम ही नहीं, अन्य जिलों से आनेवाले विद्यार्थी भी हैं, बाहर से आनेवाले विद्यार्थियों के लिए आवासीय सुविधा भी उपलब्ध है ।
भारत सरकार के सहयोग से निर्मित इस विद्यालय में 4 मंजिल की भवन है, जहां छात्राबास की ब्यवस्था है । 10 कक्षा के लिये रूम , आवासीय विद्यार्थियों के लिए 9 शयन कक्ष,4 अध्ययन कक्ष, वार्डेन कार्यालय,1 बैठक कक्ष, 1 साझा हॉल, 3 भण्डारण कक्ष बनाए गए हैं। हर तल्ले पर छात्र, छात्रा के लिए अलग–अलग सफाई कक्ष है । वही जिला समन्वय समिति ईलाम के द्वारा इस परियोजना को कार्यान्वयन किया जा रहा है।
नेपाल स्थित भारतीय दूतावास ने एक विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा है कि नवनिर्मित संरचना विद्यार्थियों के लिए प्रभावकारी रहेगी, जिस से विद्यार्थी अपनी अध्ययन के वातावरण को अभिवृद्धि करने में सफल होंगे । विज्ञप्ति में आगे कहा गया है– ‘नेपाल सरकार का उद्देश्य है कि शिक्षा क्षेत्र में पूर्वाधार विस्तार किया जाए । इस में एक सहयोगी के रुप भारत सरकार और भारत की जनता की ओर से सहभागी होने का जो अवसर प्राप्त हुआ है, इसमें भारतीय दूतावास प्रसन्ता व्यक्त करती है ।’

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

आर्थिक सहयोग करे

- Sponsored -

ADVERTISMENT

ADVERTISMENT

Comments
Loading...