Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर

- sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

सीएम नीतीश ने शहर की सूरत बदलने वाली योजनाओं का किया निरीक्षण

- Sponsored -

गया/ बिहार के मुख्यमंत्री मंगलवार को गया पहुंचे। उन्होंने जिले में चल रहे विभिन्न विकास योजनाओं का निरीक्षण किया। अपने ड्रीम प्रोजेक्ट गंगा उद्वह योजना के तहत चल रहे निर्माण कार्य का निरीक्षण सीएम नीतीश कुमार ने तेतर और मानपुर में किया। इसके बाद मुख्यमंत्री गया के ऐतिहासिक सीताकुंड पहुंचे और यहां पर फल्गु नदी में निर्माणाधीन रबर डैम का जायजा लिया। साथ ही प्रस्तावित लक्ष्मण झूला के निर्माण योजना का भी जायजा लिया।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार फल्गु नदी में बहने वाले मनसरवा नाला के प्रति काफी गंभीरता दिखलाई और इसके लिए बनाए जा रहे डीपीआर में बदलाव करने का भी निर्देश दिया। सीएम नीतीश कुमार गंगा उद्वह योजना के तहत सबसे पहले तेतर और मानपुर के अबगिला में बन रहे वाटर रिजर्ब डैम के कार्यों का जायजा लिया।
मालूम हो कि गंगा उद्वह योजना सीएम नीतीश कुमार का ड्रीम प्रोजेक्ट माना जाता है। जिसके तहत गंगा नदी के पानी को लिफ्ट कर राजगीर, नालंदा, नवादा और गया जिला में लाना है।

विज्ञापन

विज्ञापन

जिले के अंतर्गत जेठीयन के समीप तेतर गांव में विशाल वाटर रिजर्व डैम बनाया जा रहा है। गया शहर को निर्वाह पेयजल उपलब्ध कराने हेतु गंगाजल संचय के लिए मानपुर के अबगिला में बड़ा वाटर रिजर्व डैम बनाया जा रहा है। यहां स्टोर किये गए गंगाजल को संशोधन करने के बाद शहरवासियों के घरों तक पहुंचाया जाना है। ऐतिहासिक विष्णुपद मंदिर के समीप फल्गु नदी में 270 करोड़ की लागत से रब्बर डैम का निर्माण कार्य जारी है। सीएम नीतीश कुमार ने इस योजना का भी निरीक्षण किया। मालूम हो कि इस डैम के निर्माण हो जाने के बाद विष्णुपद मंदिर के समीप फल्गु नदी में सालों भर पानी का जमाव रहेगा। जिससे यहां पर प्रतिवर्ष आने वाले लाखों पिंडदानियों को काफी सहूलियत मिलेगी।

इसी स्थान पर 70 करोड़ की लागत से लक्ष्मण झूला का निर्माण भी होना है। जो फल्गु नदी के एक तरफ देवघाट तो दूसरी तरफ सीता कुंड को जोड़ेगा। इसका निर्माण होने के बाद न सिर्फ यहां आने वाले श्रद्धालुओं और पर्यटकों को सहूलियत होगी बल्कि यह एक दर्शनीय स्थल के रूप में भी विकसित होगा। पवित्र फल्गु नदी को सालों भर गंदा करने वाली मनसरवा नाला के लिए भी डीपीआर बनाया जा रहा है। मंगलवार को सीताकुंड पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसको लेकर काफी गंभीरता दिखलाई।

उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि मानसरवा नाला का गंदा पानी आगे निकाल कर उसे स्वच्छ बनाने की योजना तैयार की जाए। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सीताकुंड आगमन के दौरान गया के सांसद विजय कुमार मांझी, एमएलसी संजीव श्याम सिंह, एमएलसी मनोरमा देवी, पूर्व एमएलसी अनुज कुमार सिंह, जिला जदयू अध्यक्ष द्वारिका प्रसाद, जदयू के वरिष्ठ नेता डा.अरविंद कुमार सिंह, पूर्व मंत्री विनोद कुमार यादव, पूर्व मंत्री अभिराम शर्मा, पूर्व विधायक महेश सिंह यादव, अजय पासवान सहित कई नेतागण मौजूद थे।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Sponsored -

आर्थिक सहयोग करे

Comments
Loading...