Home » Recent (Slider) » मधेपुरा में असली देशी पार्टी के जिला कार्यालय का हुआ उद्घाटन

मधेपुरा में असली देशी पार्टी के जिला कार्यालय का हुआ उद्घाटन

Advertisements

मधेपुरा

असली देशी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन यादव ने गणतंत्रता दिवस के मौके पर मधेपुरा के आजाद टोला स्थित पार्टी कार्यालय में झंडोतोलन कर बिहारवासियों एवं देशवासियों को गणतंत्र दिवस की बधाई दी| गौरतलब है कि 71 वें गणतंत्र दिवस के पावन अवसर पर मधेपुरा के आजाद टोला स्थित लाल कोठी में राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन यादव ने असली देशी पार्टी के जिला कार्यालय का उद्घाटन किया|

कार्यालय उद्घाटन के मौके पर आयोजित मिलन समारोह में मधेपुरा जिले के सैकड़ो प्रबुद्ध एवं प्रमुख लोगों ने राष्ट्रीय अध्यक्ष के समक्ष असली देशी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की| गणतंत्रता दिवस समारोह को संबोधित करते हुए ललन यादव ने कहा कि आज देश 71 वां गणतंत्र दिवस मना रहा है| देश को आजाद हुए सात दशक से अधिक का समय बीत गया लेकिन आज भी देश को गरीबी, बेरोजगारी, भूखमरी से आजादी नहीं मिल सकी| यह काफी दुर्भाग्यपूर्ण है|

उन्होंने कहा कि गरीबों के नाम पर केंद्र और बिहार सरकार ने आजादी के बाद इन सात दशकों में अनेकों कल्याणकारी योजनायें बनाई| लेकिन क्या कारण है कि गरीब और अधिक गरीब होते चला गया| देश की एक बड़ी आबादी आज भी बुनियादी सुविधाओं के अभाव में जीने को विवश है| ऐसे कई ज्वलंत सवाल आज इस देश के जन-जन के मन में कौंध रहा है और यह कौतुहल का विषय बना हुआ है|

कहा क्या कारण है कि चुनाव के वक्त आरोप-प्रत्यारोप का हथकंडा अपनाकर अब तक भारत और बिहार में सत्तासीन होनेवाली राजनैतिक पार्टियों और उनके नेता इन ज्वलंत सवालों पर निरुत्तर  हो जाते हैं| ऐसी स्थिति में राजनैतिक दलों की विचारधारा एवं उनके नेताओं के चाल-चरित्र और चेहरे को समझते हुए संविधान द्वारा मिले वोट के अधिकार का इस्तेमाल करना होगा| इसके लिए हर व्यक्ति को जागरूक होना होगा, तभी हम गरीबी, भुखमरी, बेरोजगारी जैसी समस्याओं से निजात पा सकेंगे| जनता जब जागृत होगी तो सियासत करनेवाले लोग उन्हें गुमराह करने में नाकामयाब होंगे और देश के साथ-साथ हर भारतवासी भी विकास की मुख्य धारा से जुड़ सकेंगे|

श्री यादव ने कहा कि मधेपुरा से अनेकों नेताओं ने अपनी सियासत चमकायी और मधेपुरा की जनता के निरंतर मिले आशीर्वाद ने कई नेताओं को राष्ट्रीय पटल पर उनका सितारा बुलंद किया बावजूद इसके आज भी मधेपुरा में बुनियादी सुविधाओं का घोर अभाव है| वर्तमान बिहार सरकार के मुखिया इस प्रदेश के सुदूर इलाकों से राजधानी पटना पांच घंटे में पहुँचने का दावा करते हैं, लेकिन क्या उन्होंने कभी मधेपुरा के जर्जर और गढ्ढेनुमा सड़क पर सफर करने की जहमत उठाई है| न्याय के साथ विकास की राह पर चलनेवाली नीतीश सरकार में मधेपुरा क्यों उपेक्षित है? इन तमाम सवालों का जबाब मधेपुरा की जनता जानना चाह रही है।

उन्होंने कहा कि मधेपुरा सहित पूरे कोशी बेल्ट में बदलाव की बयार बह रही है और यहां की जनता नए नेतृत्व की तलाश में है जो उपेक्षित मधेपुरा को विकास की मुख्यधारा में ला सके। ललन यादव ने कहा कि जनता के आशीर्वाद से असली देशी पार्टी एक मजबूत विकल्प के रूप में मधेपुरा को नया नेतृत्व देगी जिसकी बानगी आज यहां मिलन समारोह में देखने को मिली है। यह नया नेतृत्व मधेपुरा ही नही पूरे सीमांचल और बिहार को प्रगति के पथ पर अग्रसर करेगा।

Comments

comments

x

Check Also

घैलाढ़ में प्रशिक्षण सह किसान मेला का आयोजन

घैलाढ,मधेपुरा. मधेपुरा जिला के घैलाढ प्रखंड अंतर्गत बरदाहा पंचायत के राम जानकी मंदिर परिसर में मृदा स्वास्थ्य कार्ड आधारित प्रत्यक्षण ...