Home » आस-पास » पूर्णिया : रूपौली में पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब की मनाई गई 1450 वीं जयंती

पूर्णिया : रूपौली में पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब की मनाई गई 1450 वीं जयंती

Advertisements

मुसलमान भाईयों ने पूरे क्षेत्र में निकाला जुलूस

पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब ने तौहीद, नमाज, रोजा, जकात और हज जैसे पांच धार्मिक कृतियों को अनिवार्य किया 

अभय कुमार सिंह@रूपौली (पूर्णिया)

पूरे प्रखंड में पैगंबर हजरत मोहमम्मद साहब की 1450 वीं जयंती बडे धूमधाम एवं हर्षोल्लास वातावरण में मनाया गया ।  इस अवसर पर मुसलमान भाईयों ने पूरे क्षेत्र में प्रभात फेरी निकालकर उनके संदेष को आगे बढाया, साथ ही तिरंगा लेकर सांप्रदायिक सौहार्द तथा देशभक्ति  की मिषाल पेश की। इसी के तहत बांकी, दरगाहा, बेला प्रसादी, चपहरी, बसगढा, अंझरी आदि गांवों स्थित दरगाह शरीफ में दारूल उलुम गरीब नवाज मजार पाक से प्रभात फेरी मस्जिद चैक होते हुए गांवों में जुलूस निकाला गया । इस अवसर पर बांकी के मस्जिद के इमाम मो इरफान आलम, मौलाना अब्दूल समद, प्रखंड जदयू महासचिव मो समद, मो जमशेद आलम, पूर्व मुखिया शाहिद राजा, मो हारूण, मो मुख्तार, मो सद्दाम आदि ने पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब के जन्म दिन पर उनके द्वारा इंसानियत के पैगाम एवं मोहब्बत की बातों का उल्लेख करते हुए कहा कि पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब ने बहुत ही पाक पैगाम दुनिया को दिये और सारे आलम के लिए रहमत बनाकर भेजे गये । उन्होंने कुरान शरीफ, सुन्नत और हदीस पर आधारित एक ऐसे धर्म की षुरूआत की, जिनमें पहलीबार सारे इंसानों को बराबरी का दर्जा प्राप्त हुआ । उन्होंने मोहब्बत, अमन एवं बराबरी के संदेश को तत्कालीन समाज के जन-जन तक पहूंचाया । उन्होंने कुरान शरीफ के माध्यम से प्रत्येक मुसलमान के लिए तौहीद, नमाज, रोजा, जकात और हज जैसे पांच धार्मिक कृतियों को अनिवार्य किया । पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब का जन्म दिन तभी सफलतापूर्वक माना जाएगा, जब सभी लोग उनके बताये गये रास्ते पर चलें । अपने बच्चों को सही तालीम दें, पढायें लिखायें । इसके बाद सभी मुस्लिम भाईयों ने सलातो सलाम पढकर तमाम लोगों के सेहत एवं तनदुरूस्ति के लिए दुआ कर जुलूसो पाक को खतम किया । इस दौरान हिंदू भाईयों ने भी हजरत मोहम्मद साहब की जयंती पर उन्हें बधाई दी ।

Comments

comments

Advertisements
x

Check Also

मानव को अपना चरित्र निर्माण के लिए हर प्रयास करने चाहिए- संत योगेश ज्ञान स्वरूप

स्वामी गुरू मुक्त स्वरूपदेव की मनाई गई छठी जयंती विजय लालगंज पंचायत के नकडहरी में संतमुक्त स्वरूप देव सेवाश्रम मुक्तधाम ...