Home » Others » सहरसा नया बजार हुआ अतिक्रमण मुक्त, नाले से हटाया गया अतिक्रमण

सहरसा नया बजार हुआ अतिक्रमण मुक्त, नाले से हटाया गया अतिक्रमण

Advertisements

सुभाष चन्द्र झा
कोसी टाइम्स@सहरसा

नगर परिषद के द्वारा रविवार को नया बजार मे सड़कों तथा नाला पर से अवैध अतिक्रमण को बलपूर्वक हटाया गया. इस अवसर पर सदर एसडीओ शंभूनाथ झा, एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी, थानाध्यक्ष राजमणि तथा नगर परिषद कार्यपालक पदाधिकारी प्रभात रंजन मौके पर डटे रहे जिससे अतिकँरमकारियों की एक नहीं चली. शांतिपूर्ण तरीके से नया बाजार के मुख्य सडक को अतिक्रमण मुक्त कर लिया गया. अतिक्रमणकारियों ने नगर परिषद के नाले तक को अतिक्रमण कर पक्के तक का निर्माण कर लिया था. जिससे नाले का आस्तित्व मिट चूका था. अतिक्रमण हटाने के दौरान जेसीबी से खुदाई के बाद नाले को जगाया जा सका.

सदर एसडीओ शंभूनाथ झा ने कहा कि पेरे शहरी क्षेत्र से अतिक्रमण हटाने का अभियान चलाया जाएगा. पहले माइकिंग कर अतिक्रमण हटाने का आग्रह किया जायेगा. उन्होंने बताया कि सभी मुख्य सडकों को जल्द ही अतिक्रमण मुक्त किया जायेगा. अतिक्रमित सरकारी जमीन तथा नाला पर बने अवैध निर्माण को तोड़कर हटाया गया. नगर परिषद के द्वारा पिछले दिनों शहर में ध्वनि विस्तारक यंत्र से अतिक्रमण हटाने की सूचना बारंबार दिया गया लेकिन फिर भी लोगों ने अपने मन से अतिक्रमण नहीं हटाया गया. सड़क के दोनों बगल दुकानदारो द्वारा शेड छप्पर डालकर चौड़ी सड़क को सकरी गली बना दिया था. साथ ही सड़कों के किनारे बने पुराने नाली को भी अतिक्रमित कर उस पर भी बसेरा बना दिया गया. जिस कारण हल्की बारिश में भी सड़कों पर जलजमाव और गंदगी से स्थनीय निवासियों का जीना दूभर हो रहा था. नया बजार मे अधिकांश बसे चिकित्सक रोगियों का इलाज करते हैं. लेकिन सड़कों की नारकीय हालात में रहने के कारण मरीज भी आना नहीं चाह रहे थे. पिछले महीने स्थानीय लोगों ने सड़क जाम कर धरना प्रदर्शन किया गया तथा नाली सफाई के विवाद में मारपीट भी हुई थी. रविवार को अतिक्रमण हटने के बाद एक ओर जहां सड़के भी काफी चौड़ी दिखने लगी है वहीं नाला को अतिक्रमण मुक्त कर दिया गया है. अब गंदगी व जलजमाव से लोगों को मुक्ति मिल सकेगा.

Comments

comments

Advertisements
x

Check Also

मधेपुरा में क्राइम अनकंट्रोल : फिर गरजी बंदूक, एक की स्थिति गंभीर

शंकरपुर ,मधेपुरा निरंजन कुमार मधेपुरा में अपराधियों के बंदूक की गर्जन बन्द नही हो पा रहे है।अभी बीते कल ही ...