Home » Others » सहरसा:बसनही पुलिस के लिए कोर्ट नालसी केश बना सिरदर्द

सहरसा:बसनही पुलिस के लिए कोर्ट नालसी केश बना सिरदर्द

Advertisements

एक युवक के दो-दो माता पिता का अनसुलझा मामला

राज आर्यन गुड्डू

कोसी टाइम्स@महुआ बाजार,सहरसा

बसनही पुलिस के लिए इन दिनों एक नालसी केस सर का दर्द साबित हो रहा है। मामला बड़ा ही दिलचस्प है जी हां एक 17वर्षीय युवक के लिए दो-दो माता पिता दावा करने में लगे हुए हैं की यह हमारा बेटा है।
क्या है मामला -मामला बसनही थाना क्षेत्र अन्तर्गत सहशोल पंचायत के गरेरी टोला वार्ड संख्या 07 का है।बसनही थाना क्षेत्र के गरेरी टोला निवासी भरत मण्डल ने एक साल पूर्व 19-01-18 को कोर्ट में अपने बेटे बेचन शर्मा के अपहरण के लिए नालसी केश दायर किया था।जिसमे बसनही थाना क्षेत्र के अगमा निवासी छोटू शर्मा व खगड़िया जिला के बेलदौर प्रखण्ड अन्तर्गत जीरोमाइल कोहवा बासा निवासी मेगन शर्मा तथा कुछ अज्ञात लोगों के द्वारा बेचन शर्मा का अपहरण किये जाने की बात बताई गई थी।नालसी के अनुसार भरत मंडल अपने 17वर्षीय पुत्र के साथ 17-09-18 को खेत में काम करने के समय उपरोक्त आरोपियों द्वारा उनके पुत्र बेचन शर्मा का अपहरण कर लिया था ।
जिसके डेढ़ साल बाद 2019में बसनही थाना द्वारा कोर्ट के नालशी के आधार पर मुकदमा दर्ज कर मामले की छान-बिन शुरू की गई।उसके बाद बीते 29अगस्त को बसनही पुलिस द्वारा खगड़िया जिले के बेलदौर प्रखण्ड के कोहवा बासा निवासी आरोपी मेगन शर्मा व उसके पुत्र मुसहरु शर्मा जिसको की वादी भरत मण्डल द्वारा अपना पुत्र बताया गया है उसे बेलदौर थाना के कोहवा बासा में उसके ही निवास स्थान से अपने कब्जे में लेकर बसनही थाने लाया गया।जिसके बाद सहरसा न्यायालय में कोहबा बासा निवासी मुसहरू शर्मा का 164 के बयान करवाने के लिए सहरसा कोर्ट ले जाया गया।जहां उसने अपना नाम मुश्हरु शर्मा बताया और पिता का नाम मेघन शर्मा घर बेलदौर प्रखण्ड के कोहबा बासा निवासी ही बताया।न्यायालय में उपस्थित बसनही पुलिस पदाधिकारी ने बताया कि वादी बासनही थाना क्षेत्र के गरेरी टोला निवासी भरत मण्डल इसे ही अपना पुत्र बेचन शर्मा बता रहा हैं।जज के आदेश पर बसनही पुलिस की अभिरक्षा में गिरफ्तार युवक के आधार से अगूंठा का मिलान करवाने को कहा गया पर युवक का दोनों जगहों पर आधार बना हुआ अलग-अलग नाम से लेकिन बेलदौर प्रखण्ड के कोहबा बासा का ही आधार सही पाया गया बासनही पुलिस के अनुसार।लेकिन वादी भारत मण्डल द्वारा किये गए नालसी केश बसनही पुलिस के लिए किसी माथापच्ची से कम नही है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार एक साल पूर्व में यह मामला बसनही थाना में तत्कालीन थानाध्य्क्ष पवन पासवान के सामने भी आया था।उस समय विवादित युवक गरेरी टोला में वादि के घर पर था।तभी बेलदौर प्रखण्ड के कोहबा बसा निवासी मेघन शर्मा ने अपना पुत्र मुशहरु शर्मा बताया था।जिसको तत्कालीन थाना प्रभारी पवन पासवान ने आधार से अंगूठा मैच करवाकर व स्थानीय लोगों से आवश्यक पूछताछ कर सामाजिक स्तर पर जाँच-परख कर बेलदौर प्रखण्ड के कोहबा बासा निवासी मेघन शर्मा को उस युवक को सुपुर्द कर दिया था।
उसके बाद वादी भारत मण्डल ने कोर्ट में अपहरण का नालसी केश दर्ज कर दिया।हालांकि स्थानीय लोगों की माने तो सही मायने में यह मानसिक रूप से कमजोड़ युवक खगड़िया जिला के बेलदौर प्रखण्ड के कोहबा बासा निवासी मेघन शर्मा का ही पुत्र है क्योंकि मेघन शर्मा के पास आधार,राशन,वोटर कार्ड तक उसका नाम का बना हुआ तथा वहां के स्थानीय प्रतिनिधि व लोगों ने उसे बचपन से वही देखा है।
लेकिन दिलचस्प बात तो यह है कि वादी भरत मंडल का पुत्र भी मानसिक रूप से विछिप्त था तथा 4साल पहले घर से ही भटक कर गुम हो गया था जिसके बाद एक साल पूर्व इस युवक को बेलदौर प्रखण्ड के पंसलावा के पास देखा तो वादी भरत मण्डल उसे घर ले आया और अपना पुत्र बेचन मण्डल समझने लगा था।
लेकिन फिर से वादी द्वारा नालसी केश किये जाने से मामला पेंचीदा हो गया है। युवक को देखेने से व बात करने से इतना भी मानसिक कमजोड़ नही है।युवक अपना नाम पता पूछने पर हर बार अपना नाम-पता खगड़िया जिला के बेलदौर प्रखण्ड के कहवा बासा निवासी मेघन शर्मा का ही पुत्र बताता है और अपना नाम मुशहरु जो की 164 के बयान के समय भी कोर्ट में बोला था।बसनही पुलिस का कहना है कि जब से मुदायल कोहबा बासा निवासी मेघन शर्मा व मानसिक रूप से विक्षिप्त मुसहरू शर्मा को बसनही थाना लाया गया है उस दिन से एक दिन भी वादी भरत मण्डल या उसके परिजन देखने तक नही आये हैं कि जिसे वो अपना पुत्र होने का दावा कर रहे हैं वो किस हाल में जबकि बनाये गए नालसी केश में मुदालय कोहबा बासा निवासी मेघन शर्मा व उसकी पत्नी अपने बेटे के लिए थाने में बैठी रहती है।फ़िलहाल इस नालसी केस में बनाये गए मुदालय मेघन शर्मा कोहबा बासा निवासी व उसके साथ लाये गये युवक मुसहरू शर्मा आवश्यक जाँच हेतु बसनही पुलिस की अभिरक्षा में एक सप्ताह से रखा जा रहा है।अब देखना बड़ा ही दिलचस्प होगा की विवादित युवक को किसके हवाले किया जाता है।

Comments

comments

Advertisements
x

Check Also

ब्रह्मपुत्र मेल के जेनरेटर कोच में लगी आग

शयामा नंद सिह भागलपुर भागलपुर मूगेर असम के डिब्रूगढ़ से चलकर पुरानी दिल्ली जाने वाली 14055 नम्बर की अप ब्रह्मपुत्र ...