Home » Breaking News » कटिहार:सेल्फी लेने के चक्कर में सीमांचल एक्सप्रेस की चपेट में आने से तीन युवकों की मौत

कटिहार:सेल्फी लेने के चक्कर में सीमांचल एक्सप्रेस की चपेट में आने से तीन युवकों की मौत

Advertisements

कोसी टाइम्स प्रतिनिधि@कटिहार 

युवाओं में सेल्फी लेने का क्रेज उनकी मौत का सौदा साबित हो रहा है।सेल्फी लेने के चक्कर में आए दिन हादसों का शिकार होने की घटना सामने आती रहती है। इससे बेखबर सुबह की सैर पर निकले तीन दोस्त को क्या पता था कि उनकी सेल्फी ही आज उनकी जान का खतरा बन जाएगा।कटिहार-बरौनी रेलखंड पर सेमापुर ओपी क्षेत्र के घुसकी गांव के समीप लालपुल पर डाउन सीमांचल एक्सप्रेस की चपेट में आने से तीन युवकों की मौत हो गई। जबकि ट्रेन आता देख तीन अन्य ने भागकर किसी तरह अपनी जान बचाई। मृतकों में दो युवक बकरीद के त्योहार पर अपने ससुराल घुसकी आये थे।तीनों मृतक मॉर्निंग वॉक पर निकले थे। दो युवकों का शव रेल की पटरी पर से क्षत विक्षत हालत में बरामद किया गया। एक अन्य के नदी में गिर जाने के कारण घंटों बाद उसका शव बरामद किया जा सका। मृतकों में दो युवक कोढ़ा थाना क्षेत्र तो एक युवक घुसकी गांव का ही रहने वाला था। मृतकों में दो युवक बकरीद के त्योहार पर अपने ससुराल घुसकी आये थे।

घटना के संबंध में बताया जाता है कि विनोदपुर साजाघाट निवासी मो शाहजहां अपनी ससुराल घुसकी आये हुए थे। गांव के एक अन्य दामाद मो शर्माजुल, मोहम्मद शहाबुद्दीन के साथ कटिहार-बरौनी रेलखंड स्थित लाल पुल पर सेल्फी ले रहे थे।  इसी दौरान दिल्ली से जोगबनी जानेवाली सीमांचल एक्सप्रेस डाउन लाइन पर आ गयी और तीनों व्यक्ति ट्रेन की चपेट में आ गये।  इससे घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गयी।  बताया जाता है कि मॉर्निंग वॉक पर तीनों निकले थे।

इस साल मैट्रिक का इम्तिहान दे चुका समीर अपने मां बाप का इकलौत पुत्र था। पिता दूधनाथ सिंह बाहर रहते थे तथा समीर शिवाजी नगर स्थित अपने नाना राजकिशोर ठाकुर के यहां रहता था। वहीं रौशन दो भाइयों में बड़ा था। इस हादसे के बाद दोनों घरों हाहाकार मचा है। मां बाप व अन्य परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है।

घटना की जानकारी मिलते ही जिलाधिकारी पूनम, एसपी विकास कुमार, गोरा थानाध्यक्ष रविंद्र कुमार पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंच गये । इधर, मृतक के परिजन के बयान पर पुलिस स्थानीय थाने में प्राथमिकी दर्ज कर मामले की तफ्तीश में जुट गयी है।
मालूम हो कि दो साल पूर्व भी इसी रेल खंड पर सेल्फी लेने के चक्कर में दो युवक रेल से कट गये थे। अप्रैल 2017 में तेज गति से आ रही ट्रेन के साथ सेल्फी ले रहे तीन युवकों में से दो का चिथड़े उड़ाते हुए चली गई। जबकि तीसरा नदी में कूदने के कारण बुरी तरह घायल हुआ। जानकारी के मुताबिक कटिहार-बरौनी रेलखंड पर कारी कोसी लाल पुल पर डाउन नार्थ ईस्ट ट्रेन तेज गति से आ रही थी। तीनों युवक एंड्रायड फोन लेकर सामने से आती ट्रेन के साथ सेल्फी लेने के धुन में पटरी पर आ गए, इसी बीच ट्रेन की चपेट में आने से शहर के ललियाही शिवाजी नगर निवासी दो लड़कों की मौत हो गयी। जबकि एक ने नदी में कूद अपनी जान बचाई। बुरी तरह जख्मी हालत में उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस को दी गई जानकारी के अनुसार सुबह तीन दोस्त समीर चौधरी, रोशन कुमार व् बिट्टू पासवान लाल पुल के समीप मजार के समीप बैठे थे। इसी बीच दूर से ट्रेन आती देख तीनो दोस्त पुल पर सेल्फ़ी लेने लगे। मौत को करीब देख बिट्टू ने तो नदी में छलांग लगा दी, मगर समीर और रोशन ट्रेन की चपेट में आ गये। मौके पर दोनों के शरीर के चिथड़े उड़ गए और उनका शव बुरी तरह इधर-उधर बिखर गया।

Comments

comments

Advertisements
x

Check Also

सुपौल:पिपरा प्रखंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता का समापन

मिथिलेश कुमार कोसी टाइम्स@पिपरा,सुपौल पिपरा प्रखंड के भागीरथ उच्च माध्यमिक विद्यालय मैदान में गुरुवार को प्रखंड स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता का ...