Home » Others » पूर्णियां:बनमनखी में पत्रकार प्रशिक्षण सह पत्रकार सम्मान समारोह आयोजित,दर्जनों पत्रकार हुए सम्मानित

पूर्णियां:बनमनखी में पत्रकार प्रशिक्षण सह पत्रकार सम्मान समारोह आयोजित,दर्जनों पत्रकार हुए सम्मानित

Advertisements

कोसी टाइम्स प्रतिनिधि@बनमनखी(पूर्णियां) 

सीमांचल की धरती पूर्णिया जिले के बनमनखी के बाल भारती मध्य विद्यालय में एसपी मीडिया नेटवर्क के द्वारा पत्रकार प्रशिक्षण सह पत्रकार सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में बनमनखी एसडीएम राकेश कुमार, एसडीपीओ विभाश कुमार, नगर पंचायत अध्यक्ष विजय साह ,एस पी मीडिया नेटवर्क प्राo लिo के चीफ एडिटर सह डायरेक्टर संतोष कुमार गुप्ता व रीता गुप्ता ने संयुक्त रूप से कार्यक्रम का उद्घाटन विधिवत दीप प्रज्वलित कर किया ।

इस मौके पर एसडीएम राकेश कुमार ने कार्यक्रम के चीफ एडिटर को धन्यवाद देते हुए कहा कि आज समाज में लोकतंत्र के चौथे की स्तम्भ के रूप में पत्रकारिता है। जो निस्वार्थ भावना के साथ समाज में हर कड़ी के साथ उसे सच दिखाने का प्रयास करती रही है। एसडीपीओ बिभाश कुमार ने अपने सुंदर लेखनी का उल्लेख करते हुए कविता प्रस्तुत किया। *ये है बनमनखी* पूर्णिया ज़िला का सुदूर क्षेत्र।रेणु जी के शब्दों में यहां धूल भी और फूल भी है।
मिथिला की संस्कृति ,कोसी अंचल की भावुकता तथा सीमांचल का भोलापन…तीनों का सम्मिश्रण है बनमनखी। लोग यहां के सीधे साधे है,यूँ कह लीजिए रसभरी ज़िलेबियों की तरह।…गुस्सा तो आएगा,पर उसके भोलेपन की मिठास में खुद को ठगा महसूस कर भी मुस्कुराएंगे आप।…निःसंदेह।
मैथिलानी सुंदरता तो नही है यहां ,परंतु कशिश आंखों की है कामरूप कामख्या की योगिनी सा। गरीबी, लाचारी, और बेबसी का संश्लिष्ट रूप है यहां विद्यमान। कई बार आप इन आँखों में आँखें डाल देखेंगे तो आँखें भींग जाएगी आपकी।
अपराध की पुरानी शैली को अपनाकर आधुनिक बनने की चाह में दिग्भ्रमित युवा है तो नशे के आगोश में संथालों की विरादरी है। आधुनिक सभ्यता से दूर ,खुद को आधुनिक दिखाने में वेबकूफ़ी भरा हरकत करते ग्रामीण।
ये बनमनखी है….दूर दूर तक मक्के की खेती में लगे किसान…सरकारी प्रावधानों को प्राप्त करने की जी तोड़ कोशिश में आमजन। शिक्षा और संस्कृति का बेमेल मेल हृदय को द्रवित कर देता है।
अवयस्क कन्याओं की वयस्क हरकतें सोचने को मजबूर कर देता है…प्रकृति की सुंदरता के बीच भोले निष्पाप हृदय की आकुलता समझा जा सकता है यहां।समय से पूर्व कुँवारी मा बनने की ओर अग्रसर इन अवयस्क कन्याओं के प्रति समाज की जिम्मेदारी पर मौन है बनमनखी।..संवेदना और सहानुभूति दोनो से कटे हुए है यहां के सभ्य नागरिक,लगता है ऐसा।
…विश्वास और प्रेम के हकदार ये बनमनखी .आपको कई बार अनैतिक की ओर अग्रसर करेगा ,परंतु आप बच कर निकलियेगा… वरना इन मासूमों के कुटिल और बचकाना शरारतों से खुद को असुरक्षित भी पाइएगा आप। अभी बनमनखी को समझने की और कोशिश कर रहा हूँ। तब तक मासूमियत और ज़ाहिलपन के संगम का मज़ा लेने दीजिये।

इस विशेष कार्यक्रम पर एसपी मीडिया नेटवर्क प्राइवेट लिमिटेड के चीफ एडिटर सह डायरेक्टर को धन्यवाद दिया। मौके पर चीफ एडिटर डायरेक्टर संतोष कुमार गुप्ता ने सभी अतिथियों को माला पहनाकर व मोमेंटो देकर सम्मानित किया।

सम्मानित अतिथियों में *वरिष्ठ पत्रकार* के रूप में बमशंकर झा ,अवधेश राय, राकेश कुमार सिंह, नेशनल जर्नलिस्ट एसोशिएशन के राष्ट्रीय महासचिव सह कोसी टाइम्स के समाचार सम्पादक संजय कुमार सुमन,दैनिक भाष्कर के उदाकिशुनगंज प्रतिनिधिधर्मेंद्र कुमार मिश्रा,शिक्षा व समाजसेवी सेवा कार्य के लिए रेजिडेंशियल बीआर ऑक्सफोर्ड पब्लिक स्कूल के डायरेक्टर मानव भारती ,सदानंद महलदार,अपना अमित ,पर्यावरण सुरक्षा एवं स्वच्छ भारत अभियान कार्यक्रम को लेकर जागरूक इस संरक्षण के लिए बालमुकुंद कुमार सिंह को प्रमाण पत्र एवं मोमेंटो देकर सम्मानित किया गया।

इस कार्यक्रम के मुख्य रूप से मंच संचालन शशिशेखर कुमार ने किया ।एसपी मीडिया नेटवर्क के बिहार ब्यूरो गौरव गुप्ता को बनमनखी एसडीपीओ विभाश कुमार द्वारा माला पहनाकर अवार्ड से सम्मानित किया गया। इस मौके पर दैनिक आज के मधेपुरा ब्यूरो चीफ सिकन्दर सुमन,युवा पत्रकार प्रफुल्ल सिंह,सुनील सम्राट,कोसी टाइम्स के बिहारीगंज संवाददाता मुकेश कुमार,चंचल कुमार, संजीव कुमार,बिट्टू कुमार, रंजीत राणा, मनोज कुमार, अभिषेक कुमार, विशाल कुमार, बंकू कुमार,अंशु कुमार, रौशन कुमार, बुद्धिनाथ साह समेत दर्जनों सवांददाता उपस्थित थे।

Comments

comments

Advertisements
x

Check Also

कटिहार : एक दिवसीय जलसा का आयोजन कल, तैयारी अंतिम चरण में

कटिहार से तौक़ीर रज़ा  की रिपोर्ट जिले के मोफस्सिल थाना अन्तर्गत सिरनियां पूरब पंचायत के बुदेल बघार गांव में सीरते ...