Home » Breaking News » मधेपुरा:गम्हरिया में 440बोल्ट तार टूट कर गिरा ,पूर्व वार्ड सदस्य की मौके पर हुई मौत

मधेपुरा:गम्हरिया में 440बोल्ट तार टूट कर गिरा ,पूर्व वार्ड सदस्य की मौके पर हुई मौत

Advertisements

राजीव कुमार

कोसी टाइम्स@गम्हरिया,मधेपुरा 

गम्हरिया थानाक्षेत्र कॆ औराही एकपरहा पंचायत के वार्ड नंबर 07के पूर्व वार्ड सदस्य 55वर्षीय मेथर यादव की मौत शुक्रवार के देर संध्या 440बोल्ट के बिजली तार के चपेट मे आनें से हों गया । मौत की खबर पूरे इलाके मे जंगल की आग कि तरह फैल गया । मृतक के परिजन ने बताया कि मेथर यादव वार्ड नम्बर 07के निवासी थे औऱ पूर्व मे वार्ड सदस्य भी थे।घटना वार्ड 08का है । परिजनों ने बताया कि मेथर यादव अपने भैंस को चारा खिलाकर भैंस के साथ वापस घर आ रहा था कि पूर्व मुखिया जगदीश यादव के घर के पास भैंस चरने लगा मेथर यादव भी वहीं खरा हों गया तबतक ऊपर से गुजर रहा 440बोल्ट तार मेथर यादव के शरीर पर हीं टूटकर गिर गया जब तक लोग कुछ समझ पाते तब तक मेथर यादव की मौत घटना स्थल पर हीं हों गई । इस ह्रदय विदारक घटना ने परिवार की कमर तोर डाला। लोग बिजली विभाग कि लापरवाही के कारण घटना होने की बात कह रहें है औऱ घटना स्थल पर बिजली विभाग के खिलाफ नारेबाजी भी किया । घटना कि सूचना मिलते हीं प्रखंड प्रमुख शशि कुमार , मुखिया पति संतोष यादव घटना स्थल पर पहुंच घटना कि जानकारी लिया औऱ पीरीत परिवार को हर संभव सहयोग का भरोसा दिया ।

वहीं घटना से आहत प्रखंड प्रमूख शशि कुमार यादव ने आक्रोशित और करें शब्दों मे बिजली विभाग कि लापरवाही को उंगलियां पर गिनाते हुए कहा कि जिला मे प्रशासन नाम कि कोई चीज नहीं है । खास कर बिजली विभाग के कोई भी अधिकारी किसी कि नहीं सुनता है । इससे कुछ दिन पूर्व भी यही बिजली करंट से एक युवक कि मौत हुई थी उस समय भी बिजली विभाग को मेरे द्वारा जानकारियां दी गई थी पर बिजली विभाग बेखबर है और लोगों कि जान जा रही है । प्रखंड प्रमुख ने कोसी टाइम्स को बताया कि यह 440बोल्ट तार 1980के दशक मे लगवाया गया था जो अब पुरी तरह जर्जर हों चुका है । हमने कई वार इस तार को बदलने के लिए प्रखंड से लेकर जिला तक आवेदन दिलवाया , अपने स्तर से अधिकृत पदाधिकारियों से भी मिला आश्वसन भी मिला पर आज तक ईस तार को नहीं बदला जा सका है । अब तक ईस तार कि चपेट मे आनें से कई आदमी कि दर्दनाक मौत हों चुका है जिसका जिसका मौत हुआ है वह परिवार आज बेघर है लाचार है उन्हें कोई देखनें वाला नहीं है ।

प्रखंड प्रमुख ने कहा यदि एक सप्ताह के अंदर इस जर्जर तार को नहीं बदला गया तो गम्हरिया से हीं बिजली विभाग के खिलाफ आंदोलन किया जायगा जिसका जिम्मेदार जिला प्रशासन होगा । वहीं घटना कि सूचना मिलते हीं प्रभारी थानाध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद , राजस्व कर्मचारी ललन ठाकुर पुलिस बल के साथ घटना स्थल पर पहुंच घटना कि जानकारी लिया और पंचनामा बनाकर लाश को कब्जे मे लेकर पोस्टमार्टम हेतु मधेपुरा भेज दिया । जबकि इस हृदय विदारक घटना से पूरे गाँव मे मातम और सन्नाटा है तो वहीं मृतक के पत्नी पुत्र पुत्रवधू और बेटी का रों रों कर हाल बुरा है । बेटी कहती है “हमर बाप बिजली वाला के की बिगाड़लके।” वहीं पुत्र बेसुध होकर पिता को देख रहा था और कुछ भी नहीं बोल रहा था । पत्नी तो वार वार बेहोश हों जा रही थी ।

Comments

comments

Advertisements
x

Check Also

समस्तीपुर में निजीकरण से भी जर्जर विधुत व्यवस्था में सुधार नहीं,होगा आंदोलन

**विवेक-विहार मुहल्ला में कम वोल्टेज के कारण सबमर्सिबल- मोटर नहीं चल पा रहा **शिकायत की अनदेखी करते अधिकारी एवं कर्मी, ...