Home » Breaking News » सहरसा:बसनही थाना क्षेत्र के महुआ बाजार के मछली मार्केट में सोमवार शाम खुले आम अवैध महुआ देशी शराब की हो रही बिक्री

सहरसा:बसनही थाना क्षेत्र के महुआ बाजार के मछली मार्केट में सोमवार शाम खुले आम अवैध महुआ देशी शराब की हो रही बिक्री

Advertisements

**बसनही थाना क्षेत्र के साप्ताहिक हाट-बाजारों में महिला व लड़कीया कर रही हैं खुले आम देशी शराब की तस्करी

**प्रशासन बनी है मूक दर्शक

राज आर्यन गुड्डू

कोसी टाइम्स@महुआ बाजार,सहरसा

सोनबरसा राज प्रखण्ड के बसनही थाना क्षेत्र के महुआ बाजार के मछली हाट में खुलेआम अवैध महुआ देशी शराब का धंधा जोरो पर चल रहा है।।बताते चले कि बसनही थाना क्षेत्र अंतर्गत विभिन्न ग्राम पंचायतों में लगने वाली हाट- बाजारों में महिलाएं व लड़कियां देशी चलाऊ शराब की खुले आम बिक्री कर रही हैं।

सूत्रों मिली जानकारी के अनुसार पुलिस और अवैध शराब कारोबारी के मिलीभगत से यह अवैध धंधा जोरों पर है। इस कारण आए दिन ग्रामीणों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले कई गांवों में देसी और अंग्रेजी शराब गांव में रहने वाले कुछ लोगों घरों,दुकानों,व हाट-बाजारों में बिना किसी डर के खुलेआम बेच रहे हैं।बसनही पुलिस प्रशासन का इस ओर कोई ध्यान नहीं है।
जब इसी सच की पड़ताल में हमारे सवांदाता सोमवार को महुआ बाजार में लगने वाले साप्ताहिक हाट के मछली मार्केट पहुचे तो बसनही थाना से महज 500 मीटर की दूरी पर खुले आम देशी महुआ शराब की बिक्री हो रही थी।सूत्रों की माने तो एक पाउच महुआ देशी शराब की कीमत 30-50 रुपये होती है।इससे अंदाजा लगया जा सकता है कि सूबे की सरकार के द्वारा शराब बंदी कानून का बसनही पुलिस द्वारा मखोल उड़ाया जा रहा है।और स्थानीय पुलिस की बेपरवाही साबित हो रही है। यहां ग्रामीणों में शराब के खुले आम अवैध बिक्री के कारण पुलिस प्रसाशन के खिलाप रोष व्याप्त है। उनका कहना है शराब के कारण घरों में अशांति फैल रही है। कई बार इसकी सूचना स्थानीय पुलिस व उत्पाद विभाग के अधिकारियों को भी दिया गया। लेकिन इसके बावजूद भी कोई शराब की तस्करी करने वालों के खिलाप पुलिस प्रशाशन मोन व सुस्त दिखाई पड़ती है।

जहाँ भी साप्ताहिक हाट लगता है जैसे महुआ,मंगला, झिटकिया,बैठमुसहरी,अतलखा में महुआ देशी शराब का अवैध कारोबार खुले आम हो रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि पुलिस प्रशासन सब कुछ जानते हुए भी इससे अनजान बने रहने की ढोंग करता रहा है। कार्रवाई के नाम पर सिर्फ आश्वासन मात्र ही दिया जाता है।
जबकि बसनही थान क्षेत्र के गांवों अवैध शराब का कारोबार इस कदर बढ़ गया है कि खुलेआम चाय, पान, किराना दुकानों पर शराब बेची जा रही है।

साप्ताहिक हाटों में ऐसे होती है शराब की बिक्री
बसनही थाना क्षेत्र के कई ऐसे गावं जहां अदिवाशियों की अच्छी आबादी है।इस गांव की महिलाएं स्वंय निर्मित महुआ चलाऊ शराब के साथ-साथ देशी शराब भी तस्करों से खरीद कर घूम-घूम कर राह चलते लोगों को उपलब्ध कराती हैं।बड़गावँ की मरिया सौतारी,रवना सोतारी,बसनही संथाली,छररापट्टी संथाली,एवं रघुनाथपुर संथाली की महिला व लड़कियां शराब के प्रतिबंध के बाद भी पुलिस के शांठ-गांठ से अवैध शराब की बिक्री खुले आम करती हैं।ऐसी महिलाओं के लिए कभी शराब जीवन यापन के लिए महत्वपूर्ण साधन था।लेकिन प्रतिबंध होने के बाद भी छुप-छुप कर इस धंधे को अंजाम दे रही है।

बसनही थाना क्षेत्र में लगने वाली साप्ताहिक हाट
सोमवार,शुक्रवार-महुआ बाजार में,मंगलवार,गुरुवार,रविवार को रघुनाथपुर पंचायत के मंगला में,बुधवार,शनिवार को सरोनी पंचायत के झिटकिया में,गुरुवार,रविवार को बैठमुसहरी पंचायत के मुसहरी में।
शुक्रवार, सोमवार को अतलखा में।वही दूसरी तरफ शराब संबंधी अवैध बिक्री के मामले में बसनहीं थानाध्यक्ष मनोज प्रसाद सिंह ने तल्ख तेवर शब्दों में बताया कि आप खबर लिख रहे हैं तो खबर लिखिए हम आगे देख लेंगे।

Comments

comments

Advertisements
x

Check Also

सहरसा में मतगणना के लिये मतगणना कर्मियों का हुआ प्रशिक्षण

सुभाष चन्द्र झा कोसी टाइम्स@सहरसा मधेपुरा लोक सभा क्षेत्रान्तर्गत सहरसा जिले के तीन विधान सभा क्षेत्र 74 सोनवर्षा, 75-सहरसा तथा ...