Home » Breaking News » भारत अब अंतरिक्ष महाशक्ति बन गया-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

भारत अब अंतरिक्ष महाशक्ति बन गया-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

Advertisements

**डीआरडीओ पर गर्व, नरेंद्र मोदी को विश्व रंगमंच दिवस की बधाई-राहुल गांधी

कुमार अमरेश

कोसी टाइम्स@दिल्ली

भारतीय वैज्ञानिको ने आज देश की वैज्ञानिक क्षमता और कौशल को एक नयी ऊंचाई प्रदान किया है। भारत अब उपग्रहों को अंतरिक्ष मे ही ध्वस्त करने की सामर्थ्य समपन्न देशों के प्रतिष्ठित समूह मे शामिल हो गया है। DRDO के इस मिशन में ASAT  (एंटी सेटेलाइट)  मिसाइल ने सिर्फ 3 मिनट में 300 किलोमीटर दूर सेटेलाइट ध्वस्त कर दिया।  इस उपग्रह भेदी (एंटी सेटेलाइट ASAT) मिसाइल का प्रक्षेपण ओडिशा के समुद्र तट स्थित प्रपक्षेण केन्द्र से आज 27 मार्च  2019 को किया गया। इसे “मिशन शक्ति” नाम दिया गया है। अमेरिका ,रूस और चीन के बाद पुरे विश्व मे इस उपलब्धि को हासिल करने वाला भारत चौथा देश है।

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने इस मिशन से लोगो को अवगत कराते हुए कहा – “भारत अब अंतरिक्ष शक्ति बन गया है।”  आगे उन्होंने  विश्व समुदाय को आश्वस्त करते हुए बताया की भारत इस शक्ति का किसी अन्य देशों के खिलाफ उपयोग नहीं करेगा, बल्कि यह कार्यक्रम पूरी तरह से आत्मरक्षा के लिए समर्पित है। यहाँ गौर करने वाली बात है कि भारत से ठीक पहले ASAT टेस्ट करने वाला अंतिम देश चीन है, जिसने 2007 मे यह टेस्ट किया था और पुरे विश्व मे उसके खिलाफ असहमति देखी गयी थी।

pm narendra modiपीएम मोदी ने कहा कि भारत ने अंतरिक्ष क्षेत्र में जो काम किया है, उसका मूल उद्देश्य भारत की सुरक्षा, भारत का आर्थिक विकास और भारत की तकनीकी प्रगति है। आज का यह ‘मिशन शक्ति’ इन सपनों को सुरक्षित करने की ओर एक अहम कदम है। उन्होंने कहा कि मैं मिशन शक्ति से जुड़े सभी अनुसंधानकर्ताओं और अन्य सहयोगियों को बहुत-बहुत बधाई देता हूं। जिन्होंने इस असाधारण सफलता को प्राप्त करने में योगदान दिया है। हमें हमारे वैज्ञानिकों पर गर्व है।उन्होंने कहा कि हमें भविष्य की चुनौतियों का सामना करने और अपने नागरिकों के जीवन स्तर में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए आधुनिक तकनीकों को अपनाना ही होगा। भारत ने ‘ऑपरेशन शक्ति’ के माध्यम से अंतरिक्ष शक्ति के रूप में खुद को स्थापित कर लिया है।

आपको बता दें कि पीएम मोदी ने एक ट्वीट करके जानकारी दी थी कि मेरे प्यारे देशवासियों आज सवेरे एक महत्वपूर्ण संदेश लेकर आपके बीच आऊंगा।

दूसरी ओर मिशन शक्ति की सफलता पर मीडिया से बातचीत करते हुआ वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बताया कि 2014 में पीएम मोदी की अनुमति के बाद ये प्रक्रिया शुरू हुई थी। यह हमारे लिए एक बड़ी उपलब्धि है। अब न केवल हम अंतरिक्ष शक्ति बन गए हैं, बल्कि अब हम उन देशों की सूची में शामिल हो गए है जिनके पास ऐसी ताकत है इसी के साथ अब भारत भी चौथी  बड़ी शक्ति बन गया है। उन्होंने आगे कहा कि हमे ये नहीं भूलना चाहिए की कल के युद्ध अलग थे और आने वाले युद्ध अलग होंगे।

केन्द्रीय मंत्री नीतिन गडकरी ने भी वैज्ञानिकों को मिशन शक्ति की सफलता पर मुबारकबाद देते हुए कहा कि भारत तेजी  के साथ प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में वर्ल्ड लीडर बनने जा रहा है। भारत सिर्फ तेजी से बढ़ती अर्थवयवस्था ही नहीं बल्कि विज्ञान क्षेत्र में भी तेजी से आगे बढ़ रहा है।

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने भी मिशन की सफलता पर कहा कि यह एक एतिहासिक दिन है। क्योंकि आज भारत एक बड़ी अंतरिक्ष शक्ति के रूप में उभरा है जिसके लिए विशेष रूप से  सभी वैज्ञानिक और प्रधानमंत्री प्रशंसा के पात्र है। मैं इस सफलता के लिए  वैज्ञानिकों और प्रधानमंत्री की सराहना करता हूं।

मशहूर गायिका लता मंगेश्कर ने भी ‘मिशन शक्ति’ की कामयाबी पर खुशी जाहिर करते हुआ ट्विट किया। उन्होंने लिखा ‘मिशन शक्ति’ की कामयाबी पर मैं हमारे वैज्ञानिकों का और माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का अभिनंदन करती हूँ। वन्दे मातरम्।

राहुल गाँधी

‘मिशन शक्ति’ को लेकर कई अन्य नेताओं ने भी प्रतिक्रिया जाहिर की है।  कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक ट्वीट में लिखा है, ‘बहुत अच्छे डीआरडीओ, हमें आपके काम पर गर्व है। ’ इसके साथ ही इसी ट्वीट में प्रधानमंत्री पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने नरेंद्र मोदी को ‘विश्व ​रंगमंच दिवस’ की बधाई भी दी है।

समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष ने भी इस संबंध में एक ट्वीट किया है।  इसमें उन्होंने लिखा है, ‘भारत की एंटी सेटेलाइट मिसाइल क्षमता पर राष्ट्र को संबोधित करके नरेंद्र मोदी ने बेरोजगारी, कृषि संकट, महिला असुरक्षा जैसे जमीनी मुद्दों से देश का ध्यान बांटने की कोशिश की है।  इसी ट्वीट में अखिलेश यादव ने इस उपलब्धि का असली हकदार इसरो और डीआरडीओ को बताया है।

इस दौरान पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक ट्वीट के जरिये पूछा है कि प्रधानमंत्री को मिशन शक्ति के बारे में जानकारी देने की इतनी जल्दी क्यों थी।  उनका यह भी कहना है कि नरेंद्र मोदी की इस घोषणा से साफ है कि उनकी अगुवाई वाली सरकार की ‘एक्सपायरी डेट’ खत्म हो चुकी है।  उसे ऑक्सीजन की जरूरत है।  ममता बनर्जी ने आगे कहा, “भाजपा जान गई है कि आगामी चुनाव में उसकी नाव डूबने वाली है इसीलिए यह ऐलान किया गया है। तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) चुनाव आयोग से इसकी शिकायत करेगी।”

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने इसके लिए डीआरडीओ को बधाई देते हुए कहा कि इस योजना की बुनियाद संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) सरकार के कार्यकाल में डाली गई थी. उन्होंने आगे कहा, ‘पंडित नेहरू और विक्रम साराभाई के नजरिये की वजह से भारत अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में अग्रणी स्थान पर है.’ वहीं कांग्रेस के नेता अहमद पटेल ने भी इस मिशन की कामयाबी का श्रेय यूपीए को दिया है. साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि भारत को यह उपलब्धि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की ‘दूरदर्शिता’ की वजह से हासिल हुई है.

Comments

comments

Advertisements
x

Check Also

मधेपुरा:गम्हरिया के निजी विद्यालयों के संचालकों की मनमानी,जिलाधिकारी के आदेशों की उड़ाई जा रही हैं धज्जियां

राजीव कुमार कोसी टाइम्स@गम्हरिया,मधेपुरा  सरकार को सरकारी तंत्र हीं ठेंगा दिखा रही है वाला चरितार्थ यानी कहावतें आज भी कायम ...