Home » Recent (Slider) » हर्ष फायरिंग से मना करने पर एक बराती की जमकर हुई पिटाई ,निजी अस्पताल में भर्ती

हर्ष फायरिंग से मना करने पर एक बराती की जमकर हुई पिटाई ,निजी अस्पताल में भर्ती

सहरसा संवाददाता

बिहार में सहरसा के सोनवर्षा राज में स्थानीय थाना क्षेत्र के लगमा पंचायत के डुमरा गांव में शादी समारोह में गोलीबारी का विरोध करना बरात को महंगा पड़ा। वधू पक्ष के लोगों ने बरात के साथ मारपीट कर जख्मी कर दिया। मारपीट में तीन लोगों के जख्मी होने की बात सामने आ रही है।जिसमें नीतीश कुमार को बेहतर इलाज के लिए सहरसा रेफर कर दिया गया। जहां एक निजी अस्पताल में नीतीश का इलाज चल रहा है।

जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र के डुमरा गांव के मनटुन यादव की पुत्री की शादी सलखुआ थाना क्षेत्र के मठ्ठा गांव के राजिंदर यादव के पुत्र रोशन यादव के साथ बुधवार की रात होनी थी। इसी दौरान शादी समारोह में वधु पक्ष द्वारा हर्ष फायरिंग होने लगी।जिस पर एक बराती युवक ने माइक से उद्घोषणा करके शादी समारोह में गोली नहीं चलाने की अपील की। फिर क्या था वधू पक्ष के लोगों ने बरात पक्ष के साथ मारपीट करना शुरू कर दिया।जिसमें नीतीश कुमार, राजेंद्र यादव व मिथिलेश कुमार को गंभीर चोट लगी है।

घटना के बाद शादी समारोह में पुलिस मौजूदगी की भी चर्चा हो रही है। लोगों ने दबी जुबान से ही सही, लेकिन कहा कि इस दौरान पुलिस मूकदर्शक बनी रही।लोगों ने कहा कि विराटपुर की घटना के बाद पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार ने सोनवर्षा थानाध्यक्ष सुमन कुमार को निलंबित कर दिया था। वहीं सदर थानाध्यक्ष राकेश कुमार सिंह के भी समारोह में शामिल होने की बात सामने आने के बाद उन्हें निलंबित कर दिया गया था। बावजूद उससे बगैर कुछ सीख लिए मौजूद पुलिसकर्मी मूकदर्शक बने रहे।

लोगों ने कहा कि मामले की जानकारी स्थानीय थाना पुलिस को दी गयी लेकिन पुलिस ने घटना स्थल पल आना मुनासिब नहीं समझा।सोनवर्षा राज थानाध्यक्ष शिवशंकर कुमार ने मामले पर कहा कि सूचना मिली है लेकिन किसी ने लिखित शिकायत नहीं की है। शिकायत मिलने पर कार्रवाई की जायेगी। जबकि, सिमरी बख्तियारपुर एसडीपीओ मृदुला कुमारी ने कहा, मामले की जानकारी मिली है।स्थानीय थाना में आवेदन नहीं दिया गया है। आवेदन मिलने पर कार्रवाई की जायेगी।पुलिस मौजूदगी की छानबीन की जा रही है।

Comments

comments

x

Check Also

“बिहार की धरती”

बिहार की धरती चाणक्य आर्यभट्ट और अशोक गौरवान्वित हुआ समस्त भूलोक बौद्ध–जैन–सिख–नव अवतरण शिक्षा–ज्ञान का उदित संचरण दिनकर की कलम-राष्ट्र ...