Home » Breaking News » कटिहार न्यायालय ने दिया जप्त ऊंटों को राजस्थान पहुंचाने का आदेश

कटिहार न्यायालय ने दिया जप्त ऊंटों को राजस्थान पहुंचाने का आदेश

Advertisements

मुरली मनोहर घोष
कोसी टाइम्स@बारसोई,कटिहार

अवर- न्यायाधीश सह एसीजेएम ,कटिहार रवि कुमार ने बलरामपुर कांड संख्या 23/19 के संबंधित पक्षकारों को सुनने के बाद जप्त 7 ऊंटों को राजस्थान के ऊंटशाला में पहुंचाने का आदेश दिया है।
सनद हो कि तस्करी से संबंधित इस मामले में दो नामजद तथा अन्य अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ भादवि की धारा 414 तथा पशु क्रूरता अधिनियम 11ए एवं बी के तहत जनचेतना प्रभारी के कटिहार अध्यक्ष सुजीत कुमार चौधरी द्वारा एक प्राथमिकी बलरामपुर थाने में दर्ज कराई गई थी। श्री चौधरी को ऑनलाइन यह सूचना मिली थी कि बलरामपुर प्रखंड के फतेहपुर पंचायत के नाजिरबारी गांव में पशु तस्करों ने कुल 18 ऊंटों मंगाया है ,परंतु उक्त गांव में श्री चौधरी के पहुंचने पर वहां मात्र 8 ऊंटों ही मिला था ।पुलिस ने इन 8 ऊंटों को जप्त कर लिया था तथा उसके देखभाल एवं खिलाने -पिलाने की जिम्मेवारी बारसोई के एक व्यक्ति को सौंपा था जिसमें बताया जाता है कि बाद में एक ऊंट की बीमारी के कारण मृत्यु हो गई ,परंतु इस संबंध में संबंधित कोर्ट को अनुसंधान कर्ता द्वारा कोई भी सूचना नहीं दिए जाने तथा जप्त ऊंटों को बारसोई में किसी आम आदमी के जिम्मा लगाने पर यहां न्यायाधीश काफी नाराज एवं गंभीर दिखे।
सूत्रों के अनुसार, न्यायाधीश ने उक्त जप्त ऊंटों को राजस्थान के ऊंटशाला पहुंचाने की जिम्मेवारी वाद के सूचक सुजीत कुमार चौधरी को दिया है ।उसके साथ सुरक्षा हेतु पुलिस को भी जाने का आदेश मिला है । बताया जाता है कि ऊंटों को ले जाने एवं अन्य तरह के खर्च वहन करने को लेकर जिला पदाधिकारी को भी सूचित किया गया है।

Comments

comments

Advertisements
x

Check Also

सहरसा वाशिंग एप्रोन नहीं रहने से रेल पटरी पर सफाई मुश्किल

सुभाष चन्द्र झा कोसी टाइम्स@सहरसा इसे रेलवे की अदूरदर्शिता कहे या लापरवाही के कारण रेल पटरियों पर गंदगी भरमार है ...