Home » Recent (Slider) » सहरसा:सोनबरसा राज में जर्जर सड़क के कारण अक्सर राहगीर होते है दुर्घटना के शिकार

सहरसा:सोनबरसा राज में जर्जर सड़क के कारण अक्सर राहगीर होते है दुर्घटना के शिकार

Advertisements

राज आर्यन गुड्डू

कोसी टाइम्स@महुआ बाजार, सहरसा

सोनबरसा राज प्रखण्ड क्षेत्र अंतर्गत महुआ बाजार से झिटकीया पुल जाने वाली सड़क का हल बद से बत्तर होता जा रहा है।जहां राहगीरों को आने जाने में काफी परेशानी की सामना करना पड़ता है।मिली जानकारी अनुसार इस मार्ग की मरम्मत के लिए यहां के ग्रामीणों ने कई बार शासन प्रशासन से गुहार लगाई ,लेकिन हालात जस की तस बनी हुई है। लोगो मे यह उम्मीद थी कि लोकसभा चुनाव से पहले सड़क का निर्माण हो जाएगा. लेकिन वो मंसूबा भी लोगों का बेकार साबित हुआ।आगे लोक सभा का चुनाव है।जनप्रतिनिधियों का प्रचार प्रसार के कारण आना जा क्षेत्र में जोड़ो पर है।लेकिन किसी जनप्रतिनिधियों को सड़क की जर्जर व्यवस्था से कोई लेना देना नही है।सड़क जर्जर होने के कारण आए दिन यहां दुर्घटनाएं होती रहती है। बता दे कि महुआ बाजार से झिटकीय पूल व दूसरी तरफ महुआ बाजार से भाया माली चोक होते हुए प्रखण्ड मुख्यालय तक जाने वाली मुख्य मार्ग का सड़क निर्माण हुए लगभग 8 वर्ष से अधिक हो चुका है।मुख्य मार्ग सड़क निर्माण के एक-दो साल बाद ही सड़क में गड्ढे होने लगे जिसके बाद ग्रामीणों ने इसकी मरम्मत के लिए जिला प्रशाशन व जनप्रतिनिधियों से कई बार गुहार लगाई जा चुकी है।
लेकिन इस सड़क मार्ग की मरम्मत अब तक नहीं हो पाई है।सड़क में जगह-जगह गडडे होने से आए दिन दुर्घटनाएं घटित हो रही है। ग्रामीणों की माने तो यह मार्ग पिछले पांच सालों से इसी हालत में है।ग्रामीण इसी जर्जर मार्ग से आवागमन करते हैं क्योंकि इनके पास और रास्ता ही नहीं है। यहां के ग्रामीण काशी नाथ मंडल,चंदन राय,खोखा मंडल,प्रेम राम,फूलों साहनी,वीरेंद्र पासवान,महादलित प्रकोष्ट के जदयू जिला अध्यक्ष प्रमोद सादा समेत अन्य ग्रामीणों का कहना है कि वे हर वर्ष सड़क निर्माण कराए जाने की मांग करते हैं लेकिन अब तक उनकी मांगे पूरी नहीं हो पाई है। मार्ग जर्जर होने के कारण आवागमन में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।
मार्ग जर्जर होने के चलते इस मार्ग में आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती है।उन्होने बताया कि गांव में भी कई ऐसे लोग हैं जो यहां पर दुर्घटना ग्रस्त हो चुके हैं।यदि समय रहते इस मार्ग की मरम्मत नहीं कराई जाती है तो कभी भी बड़ी दुर्घटना घटित होने की आशंका है।

Comments

comments

Advertisements
x

Check Also

सहरसा में मतगणना के लिये मतगणना कर्मियों का हुआ प्रशिक्षण

सुभाष चन्द्र झा कोसी टाइम्स@सहरसा मधेपुरा लोक सभा क्षेत्रान्तर्गत सहरसा जिले के तीन विधान सभा क्षेत्र 74 सोनवर्षा, 75-सहरसा तथा ...