Home » Recent (Slider) » मुज़फ़्फ़रपुर : बीडीओ ने बीएलओ के साथ किया बैठक

मुज़फ़्फ़रपुर : बीडीओ ने बीएलओ के साथ किया बैठक

मुज़फ़्फ़रपुर से राहुल कुमार की रिपोर्ट

मुज़फ़्फ़रपुर जिला निर्वाचन पदाधिकारी के निर्देश के आलोक में सभी प्रखंडों में बी ०डी ०ओ ने अपने अपने बी ०एल ०ओ के साथ बैठक किया. बैठक में बी० एल ०ओ को सभी बूथों का भौतिक निरीक्षण कर शीघ्र प्रतिवेदन उपलब्ध कराने को कहा गया साथ ही बूथ तक जाने वाली सड़क की कनेक्टिविटी नक्शा की मांग भी की गई।

सभी बी ०एल० ओ से बूथ की स्थिति और बूथ का भवन कैसा है,बूथ पर बिजली,शौचालय,बिजली पेय जल ,शेड,रैम्प की व्यवस्था है या नही इस पर भी प्रतिवेदन मांगा गया है।सभी बी ०एल ०ओ को अपने-अपने बूथों को शाइनिंग कराने का भी निर्देश दिया गया। विदित हो कि निर्वाचन आयोग के निर्देश के आलोक में जिलाधिकारी ने सभी बी० डी० ओ और संबंधित कोषांग के नोडल पदाधिकारी को हिदायत देते हुए कहा है कि प्रत्येक बूथों पर मूलभूत सुविधाओं की उपलब्धता हर -हाल में सुनिश्चित हो ताकि मतदाताओं के लिए मतदान सुगम हो सके।

सभी बी ०एल ०ओ को निर्देश दिया गया है कि प्रत्येक बूथों पर चुनाव पाठशाला का आयोजन करना सुनिश्चित करे। इसका मकसद मतदाताओं को निर्वाचन के महत्व को बतानाहै तथा वोट देने के तरीकें और ई वी एम/वी वी पैट की जानकारी से भीउन्हें लैस करना है। चुनाव पाठशाला लगाकर वोटरों को लोकतंत्र का पाठ पढ़ाया जाएगा साथ ही स्वच्छ और भयमुक्त मतदान के लिए उन्हें प्रेरित भी किया जाएगा।इस क्रम में उप निर्वाचन पदाधिकारी संजय मिश्रा ने बताया कि प्रथम चरण में 51 वाहनों के माध्यम से लोगो को ई वी एम/वी वी पैट के संबंध में जागरूक किया गया था।

आने वाले दिनों में इस कार्य को और गति दी जाएगी। दिव्यांग मतदाताओं को निर्वाचन प्रक्रिया में शामिल करना ओर उनके लिए मतदान प्रक्रिया को सुगम बनाने के उद्देश्य के निमित कई निर्देश दिये गए है। उनकी भागीदारी सुनिश्चित हो और वे सुगमता पूर्वक बूथों पर आ सके एवं मतदान के पश्चात उन्हें पुनः घर तक पहुँचाया जा सके इसके लिए भी प्रशासनिक कवायद की जाएगी। अभी 20640 दिव्यांग मतदाताओ को चिन्हित किया जा चुका है।

Comments

comments

x

Check Also

नवोदय विद्यालय के छात्र- छात्राओं ने सीआरपीएफ जवानों को श्रद्धांजलि के लिए निकाला केंडिल मार्च

शुशांत कुमार सिंहेश्वर,मधेपुरा. श्रीनगर के पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले के बाद विरोध का सिलसिला लगातार बढ़ता ही जा रहा ...