Home » Others » वेलेंटाइन-डे:अपने प्यार के इजहार करने का दिन

वेलेंटाइन-डे:अपने प्यार के इजहार करने का दिन

संजय कुमार सुमन 

sk.suman379@gmail,com 

फरवरी का महीना प्यार और इजहार का होता हैं। इसकी शुरूआत होते ही दिल की बात जुबां पर आने लगती हैं। अपने जज्बात को शब्दों में बयां करने के लिए कई लोग भी डे का इंतजार बड़ी ही बेसब्री से करते है। अगर आप भी किसी को लेकर ऐसी ही फीलिंग्स रखते हैं तो इस वैलेंटाइन अपने प्यार का इजहार कर दीजिए जनाब वरना कही देर न हो जाए।प्यार एक गहरा और खुशनुमा एहसास है। जब किसी से प्यार होने लगता है तो रिश्ते की शुरुआत में हम अक्सर सातवें आसमान में महसूस करते हैं।  दुनिया के ज्यादातर देशों में वेलेंटाइन डे मनाया जाता है। इसको लेकर कई बार कुछ अलग नजरिए भी सामने आते हैं लेकिन, बावजूद इसके लोगों और खासकर युवाओं को इस दिन या कहें इस पूरे हफ्ते का इंतजार रहता है। तो चलिए, यहां हम आपको बताते हैं, वेलेंटाइन डे से जुड़े इन सात दिनों के बारे में और ये भी कि इनका महत्व क्या है।

1260 में संकलित की गई ‘ऑरिया ऑफ जैकोबस डी वॉराजिन’ नामक पुस्तक में सेंट वेलेंटाइन का वर्णन मिलता है। इसके अनुसार रोम में तीसरी शताब्दी में सम्राट क्लॉडियस का शासन था। उसके अनुसार विवाह करने से पुरुषों की शक्ति और बुद्धि कम होती है। उसने आज्ञा जारी की कि उसका कोई सैनिक या अधिकारी विवाह नहीं करेगा। संत वेलेंटाइन ने इस क्रूर आदेश का विरोध किया।

उन्हीं के आह्वान पर अनेक सैनिकों और अधिकारियों ने विवाह किए। आखिर क्लॉडियस ने 14 फरवरी सन् 269 को संत वैलेंटाइन को फांसी पर चढ़वा दिया। तब से उनकी स्मृति में प्रेम दिवस मनाया जाता है। कहा जाता है कि सेंट वेलेंटाइन ने अपनी मृत्यु के समय जेलर की नेत्रहीन बेटी जैकोबस को नेत्रदान किया व जेकोबस को एक पत्र लिखा, जिसमें अंत में उन्होंने लिखा था ‘तुम्हारा वेलेंटाइन’। यह दिन था 14 फरवरी, जिसे बाद में इस संत के नाम से मनाया जाने लगा।

Valentine Day 2019:

ऐसा माना जाता है कि वेलेंटाइन-डे मूल रूप से संत वेलेंटाइन के नाम पर रखा गया है। परंतु इस विषय में विभिन्न मत हैं इसकी सटीक जानकारी नहीं है। कहा जाता है कि 1969 में कैथोलिक चर्च ने कुल ग्यारह सेंट वेलेंटाइन के होने की पुष्टि की और 14 फरवरी को उनके सम्मान में पर्व मनाने की घोषणा की। इनमें सबसे महत्वपूर्ण वेलेंटाइन रोम के सेंट वेलेंटाइन माने जाते हैं।

यह भी कहा जाता है कि सेंट वेलेंटाइन ने अपनी मृत्यु के समय जेलर की नेत्रहीन बेटी जैकोबस को नेत्रदान किया व जेकोबस को एक पत्र लिखा, जिसमें अंत में उन्होंने लिखा था ‘तुम्हारा वेलेंटाइन’। यह दिन था 14 फरवरी, जिसे बाद में इस संत के नाम से मनाया जाने लगा और वेलेंटाइन-डे के बहाने पूरे विश्व में निःस्वार्थ प्रेम का संदेश फैलाया जाता है।

वेलेंटाइन इतिहास

एक इतिहास यह भी है कि जब तीसरी सदी थी तो रोम में क्‍लॉडियस नाम का राजा था और उसी का राज हुआ करता था। क्‍लॉडियस मानते थे की विवाह (शादी) करने से पुरषों का दिमाग और शक्ति दोनों ही खत्म हो जाती है।

इसी सोच के साथ क्‍लॉडियस ने पूरे राज्य में यह आदेश जारी कर दिया की उसके जितने भी सैनिक और अधिकारी है वे विवाह नही करेंगे, पर जो संत वैलेंटाइन है उन्होंने क्‍लॉडियस के इस आदेश पर कड़ा विरोध जताया और पूरे साम्राज्य में लोगों को शादी करने के लिए प्रेरित किया।

संत वेलेंटाइन ने रोम में कई सैनिको और अधिकारियों की शादी करवाई। क्लॉडियस ने जब अपना विरोध देखा तो वे सह ना सका, उसने 14 फरवरी सन 269 में संत वेलेंटाइन को फांसी पर चढ़वा दिया, तब से उनकी याद में वेलेंटाइन डे का त्यौहार मनाया जाता है। यहीं कारण है की वेलेंटाइन डे का महत्व इतना बड़ा है।

ऐसा होता है पूरे वीक का प्लान

वेलेंटाइन डे वीक के पहले दिन आता है रोज डे, इसके बाद प्रपोज डे, चॉकलेट डे, टेडी डे, प्रॉमिस डे, हग डे, किस डे और बाद में आता है-वेलेंटाइन डे। इस तरह से एक के बाद एक दिन प्यार करने वालों के लिए नया संदेश लेकर आता है।

रोज डे (7 फरवरी ) : वेलेंटाइन्स वीक गुलाब देने से शुरू होता है। हर लड़का या लड़की अपने चाहने वाले को इस दिन गुलाब देने की कोशिश करते हैं। रोज डे कभी कभी फर्स्ट इंटरैक्शन का अवसर भी देता है।

रोज डे

प्रोपोज डे (8 फरवरी ) : यह वेलेंटाइन वीक का दूसरा दिन होता है। इस दिन लड़का या लड़की जिसे चाहते हैं, उसे प्रपोज करते हैं और उनके प्यार की कहानी आगे बढ़ती है।

प्रोपोज डे

चॉकलेट डे (9 फरवरी ) : वैसे तो चॉकलेट खाना किसे पसंद नहीं होता। इस दिन लोग अपने पार्टनर को चॉकलेट खिलाकर अपने प्यार में मिठास भरने की कोशिश करते हैं।

Valentine's Day

टेडी डे (10 फरवरी ) : आमतौर पर कहा जाता है कि लड़कियों को टेडी बहुत पसंद होता है और ऐसे में अपने पार्टनर को आज के दिन उसकी पसंद का खास टेडी गिफ्ट कर के अपनी ओर आकर्षित कर सकते हैं।

टेडी डे

प्रॉमिस डे (11 फरवरी ) :प्रॉमिस डे यानि वेलेंटा‍इन सप्ताह का पांचवा दिन। ये दिन प्रेमी-प्रेमिकाओं के लिए बेहद खास होता है, इस दिन कपल एक दूसरे से एक वादें की उम्मीदें रखते है, ऐसा वादा जो वो एक दूसरे से चाहते हैं, वो वादा एक दूसरे को धोखा न देने का भी हो सकता है,साथ निभाने का भी हो सकता है, तो चलिए हम आपको बताते हैं कि इस प्रॉमिस डे पर आप अपने लव वन से क्या वादें कर सकते हैं।

कहा जाता है कि प्यार का रिश्ता विश्वास पर टिका होता है। इस दिन आप आपने पार्टनर के साथ किसी तरह का कोई वादा कर सकते हैं या कोई भविष्य की योजना बनाकर उसे पूरी करने की प्रॉमिस कर सकते हैं। पर ध्यान देने वाली बात यह है कि वादा वही करें जो आप निभा सकते हैं।

प्रॉमिस डे

हग डे (12 फरवरी ) : हग डे वेलेंटाइन डे के सिर्फ दो दिन पहले आता है। तब तक प्यार परवान चढ़ चुका होता है। इस दिन अपने पार्टनर को गले लगाकर उन्हें अपना प्यार महसूस कराएं।

हग डे

किस डे (फरवरी 13) : वेलेंटाइन डे के एक दिन पहले किस डे आता है। यह डे दुनिया भर में अलग-अलग तरह से मनाया जाता है। इस दिन अपने पार्टनर को किस कर के उन्हें अपना प्यार जता सकते हैं।

किस डे

वैलेंटाइन डे (फ़रवरी 14) : हर साल इस दिन का इंतज़ार दुनिया भर के सारे कप्लस को होता है। यह ऐसा दिन होता है जिस दिन प्रेमी अपनी प्रेमिका के सामने अपनी भावनाओं को व्यक्त करते हैं। आप कुछ खास कर के अपने पार्टनर के लिए यह दिन यादगार बना सकते हैं।

Comments

comments

x

Check Also

सहरसा:असंगबा चुबा आओ बने कोसी के नये आयुक्त

सुभाष चन्द्र झा कोसी टाइम्स@सहरसा प्रमंडलीय आयुक्त डॉ सफीना एएन का तबादला पूर्णिया करते हुए नए आयुक्त के पद पर ...