Home » जिला चुनें » अररिया » अब वो रात नही-शिवम गर्ग

अब वो रात नही-शिवम गर्ग

Advertisements

*तूने की बेवफाई अब याद नहीं*
*आज नजरें भी चुराई अब याद नहीं 

*दिल ही रूठा है मेरा, मैं टूटा नहीं*
*होगी अब आंसूओं की बरसात नहीं।

*हो सके तो भूल जा ख्यालात*
*गैरों से बताने की बात नहीं

*दिल से बेबस हूं,*
*दिल ये बस में नहीं

*देख कर तुझे मुस्कुरा लूंगा ,*
*मुलाकात की कोई बात नहीं।

*तेरी ये बेरुखी लगती है प्यारी*
*हैरत जताने की कोई बात नहीं।

*अब आती है नींद मुझे*
*जागता रहे” *गर्ग*

*तेरे लिए*
*अब वो रात नहीं*

-शिवम गर्ग

Comments

comments

Advertisements
x

Check Also

अररिया :अंचल व नगर परिषद प्रशासन के  आपसी पेंच में फंसी शहरी बाढ़ पीड़ितों की राहत राशि

नूतन देवी@अररिया पिछले महीने जिले में दो बार आई बाढ़ से ग्रामीण इलाकों के साथ साथ शहरी क्षेत्र के लोग ...