Home » Breaking News » मधेपुरा : अप्रशिक्षित शिक्षकों की एनआईओएस डीएलएड प्रशिक्षण के समाप्ति पर शिक्षा तब और अब सेमिनार सत्रांत समारोह का आयोजन

मधेपुरा : अप्रशिक्षित शिक्षकों की एनआईओएस डीएलएड प्रशिक्षण के समाप्ति पर शिक्षा तब और अब सेमिनार सत्रांत समारोह का आयोजन

रंजीत कुमार सुमन

कोसी टाइम्स @ मुरलीगंज,मधेपुरा ।

अप्रशिक्षित शिक्षकों की एनआईओएस डीएलएड प्रशिक्षण के समाप्ति पर शिक्षा तब और अब सेमिनार सत्रांत समारोह का आयोजन मुरलीगंज बीआरसी केंद्र के प्रांगण में आयोजित की गई। जिस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला शिक्षा पदाधिकारी उग्रेश मंडल, विशिष्ट अतिथि वीरेंद्र कुमार यादव, डॉ रुद्रधर झा नवल, जनार्दन प्रसाद निराला शिक्षा पदाधिकारी मधेपुरा, शिक्षक संघ के सचिव चतुरानंद सिंह के द्वारा दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का उद्घाटन किया गया । कार्यक्रम के प्रारंभ में सरस्वती वंदना के बादअथितियों के स्वागत गान प्रशिक्षु खुशी राज के द्वारा किया गया । कार्यक्रम में ख़ुशी राज ने एक से बढ़कर एक गीतों की प्रस्तुति की ।  वहीं कार्यक्रम में प्रशिक्षुओं द्वारा बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ अभियान के अंतर्गत कई प्रस्तुति पेश की कार्यक्रम में शहर के सेवानिवृत्त विद्वत जनों का जमावड़ा रहा कार्यक्रम में सभी मुख्य अतिथि सहित अन्य अतिथियों को आयोजक की तरफ से सम्मानित किया गया। प्रशिक्षुओं के द्वारा गीत संगीत पर हसन जैसे ज्ञानवर्धक एवं लोगों में जागरूकता फैलाने वाली प्रस्तुति का भी प्रदर्शन किया गया।
कार्यक्रम में पूर्व प्रधानाचार्य सेवानिवृत्त शिक्षक दिवाकर लाल दास ने कहा कि तब की शिक्षा और अब की शिक्षा में बहुत बदलाव आ गया है और इसके जिम्मेदार हम शिक्षक खुद है उन्होंने बताया कि आज के शिक्षक अपनी जिम्मेदारी बखूबी निर्वहन नहीं कर रही है अगर शिक्षक मन में ठान ले कि हमने नौकरी पैसे कमाने के लिए नहीं बल्कि राष्ट्र के निर्माण में अपना योगदान देने के लिए किया है और जो हमारी जिम्मेदारी है वह हम ईमानदारी से निभाएं तो निश्चित ही शिक्षा में सुधार होगा । वही जिला शिक्षा पदाधिकारी उग्रेश मंडल ने लोगो को संबोधित करते हुए कहा कि विद्यालय में आजकल शिक्षकों में आपसी तालमेल नही रहता है एक दूसरे से बैर के कारन बच्चो की शिक्षा प्रभावित हो जाती है। उन्होंने कहा कि सवाल उठता है कि आजकल शिक्षक पढ़ाना नही चाहते है आप सरकार का पैसा लेते है किसलिए । आपको दो घंटे पढ़ाने में दिक्कत क्यों होती है। अगर आप नही समझ पाते है तो थोड़ा सा प्रयास कीजिये आप अपने विषय की अध्यन कर लीजिए और बच्चो को पढ़ाई । जब हमे उसी कार्य के लिए तनख्वाह मिलती है तो क्यों न करे । कार्यक्रम की अध्यक्षता बी एल इंटर स्तरीय विद्यालय के प्रधानाचार्य डॉ रुद्रधर झा नवल के द्वारा किया गया। जबकि मंच संचालन का कार्य अजीत कुमार झा और संगीता कुमारी के द्वारा किया गया ।

मौके पर प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी राम गुलाम गुप्ता, डॉक्टर यदुवंश प्रसाद यादव ,अजय कुमार अजय , राम किशोर मिश्र, पूनम शर्मा, ईश्वर चंद्र मिश्र , दिनकर कुमार, विकास भार्गव, मनीष कुमार, प्रशांत कुमार ,पंकज कुमार, राहुल कुमार, गौतम यादव सहित अन्य लोग मौजूद थे।

Comments

comments

x

Check Also

मधेपुरा:चौसा में प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री का पुतला दहन

कोसी टाइम्स प्रतिनिधि@चौसा,मधेपुरा स्कीम वर्करों को सरकारी दर्जा दिए जाने की मांग को लेकर आज रसोइया संघों के संयुक्त आह्वान ...