Home » Breaking News » देखे वीडियो : गया में जांबाजों ने दिखाया पराक्रम ,कल से हो जाएंगे भारतीय सेना के बड़े अधिकारी

देखे वीडियो : गया में जांबाजों ने दिखाया पराक्रम ,कल से हो जाएंगे भारतीय सेना के बड़े अधिकारी

 

कोसी टाइम्स @ गया.

गया का आफिसर्स ट्रेनिंग अकादमी पूरे दिन तालियों के गड़गड़ाहट से गूंजता रहा।जांबाज कैडेट्स अपना पराक्रम बिखेर रहे थे।सामने देखने वाले बस दांत तले उंगली चबा रहे थे। आठ दिसंबर को भारतीय सेना के इतिहास का एक और नया आयाम लिखेगा। इस दिन 165 प्रशिक्षित  कैडेटस भारतीय सेना में सीधे अधिकारी बन जाएगें। इस ऐतिहासिक दिन की पूर्व संध्या पर ओटीए गया में मल्टी एक्टिविटी डिस्पले का आयोजन ऐतिहासिक राज्यवर्द्धन स्टेडियम में किया गया।

ओटीए के कैडेटस एवं अन्य दलों ने इस दौरान सैन्य शक्ति के जांबाजी के हैरतअंगेज प्रदर्शन किए। ऐसा प्रतीत हो रहा था कि क्या जमीन और क्या आसमान, सब हमारी मुटठी में है। जेंटलमैन कैडेटस से जुड़ी सैन्य प्रशिक्षण के विविध पहलूओं तथा साहसिक कारनामे पर आधारित प्रदर्शन मौके पर मौजूद लोगों के लिए रोमांचित करने वाला तो था ही, साथ ही जोखिम भरे प्रदर्शन रोंगटे खड़े कर देने वाले थे।

ऐसा प्रदर्शन कि अच्छे अच्छे प्रशिक्षण पा चुके साहसी भी करने से पहले सौ बार सोचते लेकिन यहां तो जैसे ये लोग बचपन से यहीं कर रहे हो इसी अंदाज में कर रहे थे।अपने प्रशिक्षण में जवानों ने जो भी प्रशिक्षण प्राप्त किया था हर कुछ को सामने रखकर लोगों को अचंभित कर दिया ।

इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सह निरीक्षण अधिकारी रॉयल भूटान आर्मी के आर्मी चीफ लेफ्टिनेंट जनरल बातू त्शेयरिंग थे। ओटीए कमांडेंट लेफ्टिनेंट जनरल सुनील श्रीवास्तव ने उनका स्वागत किया। इस अकादमी में प्रशिक्षण के कुछ उद्देश्यों में से एक उद्देश्य शारीरिक और मानसिक तौर पर मजबूत और साहसी सैन्य अधिकारी तैयार करना भी है। इस प्रदर्शन के दौरान जेंटलमैन कैडेटों द्वारा चपलता एवं शारीरिक शक्ति का अद्भूत प्रदर्शन किया गया। जो उन्होंने प्रशिक्षण के दौरान हासिल किया।

कार्यक्रम की शुरुआत जेंटलमैन कैडेट्स ने घुड़सवारी के प्रदर्शन जम्प से किया। आरम्भ में तीन जेंटलमैन कैडेट्स घुडसवारों द्वारा मुख्य अतिथि को स्टेंडिंग सैल्यूट दिया गया। राजव‌र्द्धन स्टेडियम में मौजूद अतिथियों ने निगाहें अचानक आकाश की ओर टिक गई। एक के बाद एक माइक्रोलाइट एयरक्राफ्ट आगमन हुआ। माइक्रो लाईट एयरक्राफ्ट के द्वारा फ्लाई पास्ट अद्भूत प्रदर्शन किया गया। इसके बाद जेंटलमैन कैडेटों ने मल्लखंभ प्रस्तुत की।

महाराष्ट्र के शिवाजी के क्षेत्र से आने वाले पारंपरिक धुन पर कार्यक्रम प्रस्तुत की गई। इनके कारनामे उपस्थित लोगों को अपनी खींच ले आई। उसके बाद शुरु हुई स्काई डाइविंग। पैरासूट के सहारे जांबाज कैडेटों ने हजारों किलोमीटर आकाश मार्ग से यात्रा कर इस कार्यक्रम में पहुंचे। इनकी साहसी कार्य के लिए लोगों ने तालियां बजाकर स्वागत किया।

इसी तरह बैंड डिस्प्ले का भी प्रदर्शन इस मल्टी एक्टिविटी डिस्प्ले में शामिल था। मौके पर ओटीए पीआरओ मेजर रतीस रमेश, जेंटलमैन कैडेटस के अभिभावक, रिश्तेदार, असैनिक अधिकारी आदि की मौजूदगी थी। मल्टी एक्टिविटी डिस्पले में माइक्रोलाईट एयरक्राफ्ट, जिम्नास्टिक, पारामोटर, टर्नडोस, शो जम्पिंग, शारीरिक प्रशिक्षण प्रदर्शन, मलखंभ, बाइक डेयरडेविल, स्काई डाइविंग और बैंड डिस्पले का प्रदर्शन हुआ।

अकादमी के जेंटलमैन कैडेटस ने अपने शारीरिक दमखम और पेशेवर प्रदर्शन से दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। इसका समापन शानदार आतिशबाजी के साथ किया गया।

Comments

comments

x

Check Also

मधेपुरा:चौसा में प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री का पुतला दहन

कोसी टाइम्स प्रतिनिधि@चौसा,मधेपुरा स्कीम वर्करों को सरकारी दर्जा दिए जाने की मांग को लेकर आज रसोइया संघों के संयुक्त आह्वान ...