Home » Breaking News » गाँव को साफ सुथरा और अतिक्रमण हटाने को लेकर चलाया गया स्वच्छता अभियान।

गाँव को साफ सुथरा और अतिक्रमण हटाने को लेकर चलाया गया स्वच्छता अभियान।

Advertisements

कोसी टाइम्स @ मधेपुरा ।

 

आगामी दीपावाली और लोक आस्था का महापर्व छठ को देखते हुए मधुवन पंचायत को साफ-सुथरा व अतिक्रमण मुक्त बनाने के लिए युवा शक्ति कमिटि के सदस्यों ने स्वच्छता अभियान का शुरुआत किया। युवा कमिटि के सदस्यों और ग्रामीणों ने मिलकर झारु और टोकरी लेकर गाँव के मुख्य सड़कों का साफ सफाई किया तथा ग्रामीणों से सड़क किनारे रखे गोबर जलावन मवेशियों का चारा व अन्य वस्तुओं को हटाने का आग्रह किया। युवा कमिटि के सदस्यों ने कहा कि यह स्वच्छता अभियान छठ पुजा तक अनवरत चलाया जाएगा। इससे पुर्व स्वच्छता अभियान कार्यक्रम का शुभारंभ करते भुमी सुधार उप समाहर्ता ललित कुमार सिंह ने ग्रामीणों के दरवाजे पर जाकर कुड़ा कचड़ा व गोबर का ढेर घर के आगे जमा नहीं करने का सलाह दिया और कम से कम अपने घर के आगे रोजाना साफ सफाई करने का आग्रह किया।

विंज्ञापन हेतु : 8228911762,9431203236

उन्होंने कहा कि भारत देश कि आत्मा गाँव में बसती है। जब तक गाँव के लोग सुखी संपन्न स्वच्छ और खुशहाल नहीं होंगे तब तक देश उन्नति पथ पर अग्रसर नही हो पाऐगा। उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान भारत सरकार द्वारा आरंभ किया गया राष्ट्रीय स्तर का अभियान है जिसका उद्देश्य गाँव शहरों के गलियों, सड़कों को साफ-सुथरा करना है। यह अभियान गाँधी के जन्मदिवस 02 अक्टूबर 2014 को आरंभ किया गया था। गांधी जी ने अपने देश के लोगों को स्वच्छता बनाए रखने संबंधी शिक्षा प्रदान कर राष्ट्र को एक उत्कृष्ट संदेश दिया था। स्वच्छ, सुंदर, सभ्य, शिक्षित व सामाजिक समरसता से ओतप्रोत हो गाँव अपना सही था गाँधी जी का सपना। परंतु यह स्वच्छ भारत का सपना किसी एक भारतीय या किसी एक सरकार का नही अगर देश के 125 करोड़ लोग मिलकर इसमे भाग ले तब ही महात्मा गाँधी का यह सपना पूरा हो सकता है। अगर सारे भारत वासी यह संकल्प ले कि वो न तो गंदगी करेंगे न ही किसी को करने देंगे तब ही यह स्वच्छ भारत अभियान संभव है। अंत में गाँव को गंदगी से आमजन को मुक्ति दिलाने को सबने डीसीएलआर के साथ शपथ ली। अभियान में मुख्य रूप से युवा शक्ति कमिटि अध्यक्ष श्रवण जोशी, प्रेमजीत कुमार, नवीन कुमार, ज्योतिष, तूफानी, जितेंद्र, सूरज, सौरभ, प्रदीप, अविनाश, मिथिलेश, रोशन, सुभाष, अवधेश, कपिल देव, सुनील, अभिनंदन, राजीव, संजीव, विवेक, अंकित, नीरज, कौशल, प्रीतम, जीवन, आनंद, गोविंद, प्रमोद, अरविंद, पिंटू, सुबोध, संतोष, ग्रामीण विन्देश्वरी मेहता, विक्रम मेहता, जनार्दन पासवान सहित अन्य युवा लोग मौजूद थे।

उदाकिशुनगंज से अरुण कुशुवाहा की रिपोर्ट

Comments

comments

Advertisements
x

Check Also

सहरसा वाशिंग एप्रोन नहीं रहने से रेल पटरी पर सफाई मुश्किल

सुभाष चन्द्र झा कोसी टाइम्स@सहरसा इसे रेलवे की अदूरदर्शिता कहे या लापरवाही के कारण रेल पटरियों पर गंदगी भरमार है ...