Home » Recent (Slider) » भारत रत्न डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम जी के 87 वीं जयंती पर समारोह का आयोजन

भारत रत्न डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम जी के 87 वीं जयंती पर समारोह का आयोजन

अभिषेक आनंद@नई दिल्ली 

ग्रेस इंडिया एजुकेशनल ट्रस्ट के बैनर तले हंसराज महाविद्यालय नई दिल्ली परिसर में भारत रत्न डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम की 87 वीं जयंती समारोह का आयोजन किया गया। जिसका उद्घाटन बिहार के पिछड़ा वर्ग आयोग के पूर्व अध्यक्ष डॉक्टर रतन कुमार मंडल ने दीप प्रज्वलित कर की। इस अवसर पर एक सम्मान समारोह का आयोजन कर अलग- अलग विधा के लोगों को सम्मानित किया गया और भारत रत्न डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम स्मृति एवं मानव कल्याण न्यास का विधिवत रूप से उद्घाटन किया गया। न्यास के अध्यक्ष डा.शशिधर मेहता की अध्यक्षता में आयोजित समारोह की शुरुआत भारत रत्न अब्दुल कलाम के तैल चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की गई।

महाविद्यालय के डॉक्टर अनीता कामरा वर्मा ने कहा कि डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम एक वैज्ञानिक होने के साथ मनोवैज्ञानिक भी थी। उनको चेहरा पढ़ना भी आता था। वो किसका भी चेहरा पढ़कर उसके बारे में बता देते थे। डॉ. कलाम उस शख्सियत का नाम है,जो जीवनभर ज्ञान के भूखे रहे और जिसमें दूसरों के भीतर भी ज्ञान की भूख जगाने की अद्भुत क्षमता थी। जिसने हमेशा विकास की बात की। फिर वह डेवलेपमेंट समाज का हो या फिर व्यक्ति का। देशबन्धु महाविद्यालय के डा इंद्रकांत सिंह ने कहा कि डॉ.कलाम हमेशा देश के विकास, गांवों में शिक्षा का प्रसार, चिकित्सा व्यवस्था में सुधार जैसे मामलों पर गहनता से बातें करते थे। वह जब किसी से मिलते थे तो उसे सलाह देते कि वह हर दिन अपनी मां के चेहरे पर एक मुस्कान जरूर दें। हंसराज महाविद्यालय के डा ब्रजेश राठी ने कहा कि डा कलाम का मानना था कि गांवों के विकास पर फोकस होना चाहिए। इसके अलावा बच्चों की शिक्षा और स्वास्थ्य को दुरुस्त करवाना सरकारों की प्राथमिकता रहनी चाहिए। डॉ.कलाम की सोच साधारण रहन-सहन के साथ सामाजिक रूप से उत्पादकता देने वाली थी। चितकहरा विश्वविद्यालय पंजाब के डॉक्टर तपन बहल ने कहा कि अब्दुल कलाम देश में मिसाइल कार्यक्रम की नींव रखने वाली शख्सियतों में से एक हैं। उन्होंने देश को मिसाइल शक्ति दी, परमाणु शक्ति दी, युवाओं को राष्ट्रनिर्माण के लिए प्रेरित किया और बतौर राष्ट्रपति भी मिशाल पेश करने वाले कई काम किए। डॉक्टर अब्दुल कलाम ने जीवनभर शादी नहीं की और देश सेवा में लगे रहे। दिल्ली सरकार के अनुभाग अधिकारी संतोष पटेल ने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति डॉक्टर ए पी जे अब्दुल कलाम न सिर्फ एक महान वैज्ञानिक, प्रेरणादायक नेता थे बल्कि अद्भुत इंसान भी थे।उनकी सादगी, मितव्ययिता और ईमानदारी जैसे उन गुणों की मिसाल थे जो आज के राजनीतिक परिदृश्य में दुर्लभ हो चले हैं।

उद्घाटनोप्रांत डा रतन कुमार मण्डल ने कहा कि मिसाइल मैन के नाम से जाने जाने वाले पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम का आज जन्मदिन है। डॉ. कलाम को भारतीय मिसाइल प्रोग्राम का जनक कहा जाता है। डॉ. कलाम बच्चों में भी बहुत लोकप्रिय थे। कलाम की बचपन से दिली ख्वाहिश थी कि वे फाइटर पायलट बनें। उन्होंने एरोस्पेस इंजीनियरिंग में पढ़ाई की और बाद में डीआरडीओ के साथ काम किया। उन्होंने अपनी जिंदगी के 40 महत्वपूर्ण साल डीआरडीओ और  आईएसआरओ की सेवा में गुजारे।सपने वे नहीं होते जो आपको रात में सोते समय नींद में आए लेकिन सपने वे होते हैं जो रात में सोने न दें। ऐसी बुलंद सोच रखने वाले मिसाइल मैन अवुल पकिर जैनुलाअबदीन अब्दुल कलाम ने जब देश के सर्वोच्च पद यानी 11वें राष्ट्रपति बने। कार्यक्रम का संचालन नेशनल जर्नलिस्ट एसोशिएशन के राष्ट्रीय महासचिव सह ग्रेस इण्डिया टाइम्स बिहार के संपादक संजय कुमार सुमन ने की।

कार्यक्रम के अंत में ग्रेस इंडिया टाइम्स बिहार के संपादक संजय कुमार सुमन,दिल्ली के रति रमन मौर्य,सीवान के राकेश कुमार गुप्ता,हंसराज महाविद्यालय के डॉ रामा शर्मा,लतंत प्रसून,ग्रेस इण्डिया टाइम्स के प्रधान संपादक शशिधर मेहता को बेस्ट नेशनल मीडिया अवॉर्ड, डॉक्टर शिव सिंह कुशवाहा शाश्वत, फुल कुमार अकेला,संतोष पटेल, सरोज सलिल को लिटरेचर अवॉर्ड,डा ज्योति भोला हंसराज कॉलेज दिल्ली,डा.अनीता कमरा वर्मा करोड़ीमल कॉलेज दिल्ली,डा अरविंद हंसराज कॉलेज दिल्ली को बेस्ट रिसर्चर अवॉर्ड, मोहित हेंज हीटर को बेस्ट गॉस्पेल प्रीचर अवॉर्ड प्रदान किया गया।

वंचित समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा रतन कुमार मंडल को बेस्ट सोशल जस्टिस अवॉर्ड, हंसराज कॉलेज के डॉ विजय रानी,देशबन्धु कॉलेज के डॉक्टर इंद्र कांत सिंह,हंसराज कॉलेज के डॉ अर्चना सिंह,डॉ मंजू माथुर, प्रतिभा विद्यालय इंद्रपुरी के शशी अरोरा को बेस्ट टीचर अवॉर्ड,दिल्ली विश्वविद्यालय के सुरेंद्र सिंह ,अधिवक्ता सीमा कुशवाहा,गाजियाबाद के शमशेर सिंह राणा,मधेपुरा के कुंजबिहारी शास्त्री,दिल्ली विश्वविद्यालय के नैंसी रंगा,विकास कुमार को बेस्ट सोशल वर्कर अवॉर्ड  प्रदान किया गया।

बांका के ललित किशोर कुमार, हंसराज कॉलेज के डॉ शैलेंद्र कुमार सिंह,डा रोमिला रावत बिष्ट,वीबीएम कॉलेज सिवान की डा पूजा कुमारी राजपुरा पंजाब के डॉक्टर तपन बहल, हंसराज कॉलेज दिल्ली के डा ब्रजेश राठी, गुजरात के भवेश रामनिकला मेहता,महाराजा अग्रसेन कॉलेज दिल्ली के डॉक्टर प्रमोद कुमार को बेस्ट यंग टीचर अवॉर्ड, हंसराज कॉलेज दिल्ली के अजीत कुमार, दिल्ली विश्वविद्यालय के चंचल कुमार, योगेश कुमार अनिल कुमार मवी, महेंद्र प्रजापति को बेस्ट यंग रिचर्ड अवॉर्ड, डॉ मधु गुप्ता को बेस्ट एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस अवार्ड प्रदान किया गया।

 

Comments

comments

x

Check Also

सहरसा अंचल के वरीय लिपीक का रिश्वत लेते विडियो वायरल, निलंबित

**जिलाधिकारी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए तत्काल प्रभाव से किया निलंबित राजेश कुमार डेनजिल कोसी टाइम्स@सहरसा जिले के ...