Home » Breaking News » कटिहार : करोड़ों रुपए का नया बस स्टैंड कचड़े के ढेर में हुआ तब्दील

कटिहार : करोड़ों रुपए का नया बस स्टैंड कचड़े के ढेर में हुआ तब्दील

तौक़ीर रज़ा 

कोसी टाइम्स @ कटिहार ।

 

उदामा रेखा में करोड़ों रुपए खर्च कर बना नया बस स्टैंड कूड़े दान में तब्दील होता दिखाई दे रहा है।गौरतलब है कि 2016 में बिहार सरकार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कर कमलो दुवारा उदघाट्न भी हो चूका है मगर दो साल बीत जाने के बाद भी यहां से बस सेवा चालू नहीं किया गया है, जो अब सिर्फ नगर निगम के लिए कूड़ेदान फेंकने का जगह बन गया है,चारों ओर गंदगी ही गंदगी फैला हुआ है इस का असर आस पास के घरों में फ़ैल रहा है।ऐसे में सरकार सफाई अभियान की मुहिम चला रही है यहां पर सरकार की सारी सारी मुहीम की धज्जियां उड़ाई जा रही है।जिस उद्देश्य से बस स्टैंड को उदामा रेखा स्थानांतरित किया गया था, वह सफल नहीं हो पाया कटिहार में दो साल बीतने के बाद भी अब तक नया बस स्टैंड का परिचालन सेवा शुरू नहीं हो पाने से लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

बस स्टैंड को उदामा रेखा स्थित न्यू बस स्टैंड स्थानांतरित किये जाने को दो साल बीतने को हैं, लेकिन अब तक इसका परिचालन नहीं हो पाना कई खामियों का उजागर कर रहा है।अब यह सिर्फ नगर निगम का कूड़ेदान बन गया है।अस्थायी बस पड़ाव के रूप में सहायक थाना के बगल वाली जगह को चिह्नित कर वहीं से बस का परिचालन किया जा रहा है, इस बस स्टैंड को अस्थायी तौर पर पिछले कई माह से चलाया जा रहा है. नया बस स्टैंड का निर्माण कछुये की गति से पूरा कर लिया गया है और इस का उदघाटन भी हो चूका है, हालांकि जिस उद्देश्य से बस स्टैंड को उदामा रेखा स्थानांतरित किया गया था, वह सफल नहीं हो पाया है. अब भी शहर में जाम की समस्या आम है. जाम की समस्या शहीद चौक से मिरचाईबाड़ी तक लगती है, लेकिन लोगों को जाम से निजात नहीं मिलती है. नया बस स्टैंड का निर्माण नहीं होने से तरह-तरह के सवाल जेहन में उठ रहे हैं. जाम की समस्या हो गयी है आम : शहर के शहीद चौक पर अवस्थित बस स्टैंड जब चालु था तो प्रत्येक दिन जाम की समस्या उत्पन्न होती थी. बस स्टैंड को स्थानांतरित उदामा रेखा होने के बावजूद जाम अब भी लगता है. वहीं अस्थायी बस पड़ाव मिरचाईबाड़ी में जाम की समस्या विकराल रूप धर लिया है. बसवाले सड़क के बगल में बस को खड़ी कर देते हैं. जिससे वाहनों को निकलने में काफी परेशानी होती है और रह रहकर जाम की समस्या उत्पन्न हो जाती है. शहीद चौक पर टैंपू अनाधिकृत रूप से लगा दिया जाता है. जिसके कारण भी जाम की समस्या उत्पन्न हो जाती है. राेज जाम झेलने को मजबूर होते हैं लोग. बसें रोड के अगल-बगल होती हैं खड़ी एक अप्रैल 2016 को शहीद चौक से बस स्टैंड को स्थानांतरित कर उदामा रेखा शिफ्ट कर दिया गया है. उदामा रेखा स्थित न्यू बस स्टैंड की जमीन पर बस स्टैंड का निर्माण पूरा किया गया, लेकिन बसों का परिचालन इस जगह से नहीं हो सका. इसका मुख्य कारण था कि न्यू बस स्टैंड का निर्माण कराना. दो साल बीतने के बावजूद भी अब तक उक्त स्टैंड से परिचालन शुरू नहीं हो पाया है. अस्थायी बस पड़ाव मिरचाईबाड़ी से बस का परिचालन किया जा रहा है. लेकिन इस जगह पर भी बस लगाने के लिये जगह नहीं है. बस चालक रोड के अगल बगल में बस को खड़ा कर रहे हैं।

Comments

comments

x

Check Also

सहरसा अंचल के वरीय लिपीक का रिश्वत लेते विडियो वायरल, निलंबित

**जिलाधिकारी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए तत्काल प्रभाव से किया निलंबित राजेश कुमार डेनजिल कोसी टाइम्स@सहरसा जिले के ...