Home » Breaking News » मधेपुरा : जब किसी ने नही सुनी समस्या तो लोगो ने बनायीं विकास कमिटी, किया समस्या का निदान

मधेपुरा : जब किसी ने नही सुनी समस्या तो लोगो ने बनायीं विकास कमिटी, किया समस्या का निदान

रंजीत कुमार सुमन
कोसी टाइम्स @ मुरलीगंज, मधेपुरा ।
मुरलीगंज  के अति व्यस्त चौक मीरगंज जहाँ से कई जिलों को जोड़ने वाली सड़क निकलती है  और कई जिलों के गंतव्य को जाने के लिए रोजाना सेकड़ो यात्री यहाँ बस पड़ाव पर रुकते है और उस दौरान अगर शौच आ जाये तो आफत आ जाती है । खास कर महिलाओं को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है । एक तरफ जहाँ सरकार स्वच्छता अभियान अंतर्गत खुले में शौच मुक्त शहर और गांव बनाने की पुर जोर कोशिश कर रही है वही उनके ही अधिकारी , मुलाजिम और जनप्रतिनिधि के उदासीनता के कारण सरकार के सपनो पर पानी फिर जाता है । मीरगंज बस पड़ाव पर शौचालय का जीणोद्धार के लिए स्थानीय लोगो ने कई बार मांग किया , आक्रोश प्रकट किया किन्तु  किसी जनप्रतिनिधि या अधिकारी ने इस समस्या से निजात के लिए पहल किया । थक हार कर लोगो ने आपस में मिलकर एक विकास कमिटी का गठन किया । जब यात्री खाश कर महिलाएं परेशान होने लगी तो जोरगामा पंचायत के समाजसेवी भारत भूषण के द्वारा जोरगामा-मीरगंज विकास कमिटी गठित किया गया। जिसमें कई लोगों के द्वारा सहयोग राशि दी गयी और शौचालय को चालू करवाया गया ।
मौके पर उपस्थित समाजसेवी भारत भूषण सिंह ने कहा इस व्यस्त चौक पर सरकार द्वारा बनाए गए शौचालय की तरफ किसी का ध्यान नहीं जा रहा था। इन शौचालयों को बने कई वर्ष बीत गए परतु अभी तक किसी ने सही से प्रयोग ही नहीं किया था। खंडहर बनने की कगार पर इन शौचालयों में अब घास-फूस व झाड़िया उग चुकी थी। जब प्रसाशन द्वारा इसका जीर्णोद्धार नहीं करवाया गया तो एक कमिटी गठित की गई और इसको चालू करवाया गया ताकि लोगों को खुले में शौच से मुक्ति मिल सके। इस कार्य मे जोरगामा पंचायत के पूर्व मुखिया मिथिलेश कुमार आर्य, राजेन्द्र चौधरी, वर्तमान मुखिया अभय कुमार उर्फ गुड्डू, पूर्व सरपंच उपेंद्र नारायण चौपाल, नजीरुद्दीन, धीरेंद्र लाल दास, बिनोद कुमार वर्मा, रमेश साह, डॉ निवास भगत, मंटू विद्रोही, अनिल भारती, मो गयास, मो काशिम एवं पंचायत के कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Comments

comments

x

Check Also

कटिहार:तकनीकी सहायकों के लिए काउंसलिंग कल,प्रतिनियुक्त किए गए दंडाधिकारी

तौक़ीर रज़ा कोसी टाइम्स@कटिहार पंचायती राज विभाग के अंतर्गत तकनीकी सहायकों के लिए 17 नवंबर को एवं लेखापाल-सह- आईटी सहायकों ...