Home » Recent (Slider) » लगातार 5 वीं बार आयोजित होगा सहरसा ग्रुप मिलन समारोह

लगातार 5 वीं बार आयोजित होगा सहरसा ग्रुप मिलन समारोह

Advertisements

सहरसा प्रतिनिधि

इस बात से अब इनकार नहीं किया जा सकता है कि सोशल मीडिया न सिर्फ हमारी जिन्दगी का अभिन्न हिस्सा बन चुका है बल्कि यह रोजमर्रा की जिंदगी में शामिल हो गया है। यही वजह है कि कोसी के क्षेत्र में जब इंटरनेट ने दस्तक दी तो इस क्षेत्र में कई गंभीर यूजर्स ने इंटरनेट को अपना अहम् योगदान भी देना शुरू किया । सोशल मीडिया पर फेसबुक का आगमन हुआ तो कोसी की रचनात्मकता भी खुलकर सामने आने लगी । फेसबुक यूजर्स ने जब महत्वपूर्ण जानकारियां साझा करनी शुरू की तो ऐसे में सहरसा नाम से बने ग्रुप ने कोसी के लोगों के सामने एक बेजोड़ मंच प्रदान किया ।

मंच सटीक मिला और इसे संचालित करने वाले कुमार रविशंकर तथा अन्य सहयोगियों ने इसके मोडरेशन कार्य को संतुलित रखा तो सहरसा ग्रुप में शेयर की जाने वाली जानकारियों के प्रति सदस्यों का भरोसा बढ़ता गया और देखते ही देखते इस ग्रुप के सदस्यों की संख्यां 40,000 के पास चली गई, जो यह दर्शाने के लिए काफी है कि सोशल मीडिया पर सक्रियता के मामले में ‘हम किसी से कम नहीं.’ कोसी के इंटरनेट यूजर्स के लिए गौरव बने सहरसा ग्रुप ने लगातार पांचवें साल सहरसा ग्रुप मिलन समारोह की तैयारी में जुटा है ।

अपने सामाजिक सरोकार को व्यक्त करने की प्रतिबद्धता के कारण आज सहरसा ग्रुप फेसबूक से लेकर कतिपय समानांतर मीडिया समाज में सार्थक भूमिका निभाने में सफल रहा है। लेकिन वहाँ जहां तमाम कस्वाई प्रतिकूलताओं के साथ-साथ साधन और सूचना की न्यूनता के बावजूद एक समूह अपने क्षेत्र के सरोकार को लेकर सोशल मीडिया पर संगठित होता है और देखते देखते अपना एक विशाल स्वतंत्र वजूद तैयार करने में सफल हो जाता है, इसे आश्चर्य नहीं तो क्या कहा जाएगा?

सहरसा ग्रुप मिलन समारोह का आयोजन फेसबुक के मित्रों से मिलने जुलने का एक मंच है । इस वर्ष 11 नवंबर को लगातार पांचवां मिलन समारोह आयोजित होने जा रहा है । ग्रुप के एडमिन टीम से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस वर्ष कवि सम्मेलन, परिचर्चा, सांसकृतिक कार्यक्रम, सम्मान समारोह के अतिरिक्त स्वास्थ क्षेत्र से संबंधित कार्यक्रम  भी आयोजित किया जाएगा । कार्यक्रम में आम सहभागिता के लिए फेसबुक पर ईवेंट क्रिएट किया गया है । सहरसा ग्रुप के एडमिन टीम ने कार्यक्रम को लेकर सभी सदस्यों से सहभागिता औऱ सहयोग की अपील की है ।

ग्रुप में जुड़ने के लिए https://www.facebook.com/groups/saharsamitra/ पर क्लिक करें ।

Comments

comments

Advertisements
x

Check Also

तुम्हें पाने का ख्वाब

तुम्हें पाने का ख्वाब तुम्हें पाने का ख्वाब देख रहा हूं, यह हकीकत है या फसाना सोच रहा हूं। वर्षों ...