Home » Recent (Slider) » साहित्य”मुझे प्यार करना आता है”

साहित्य”मुझे प्यार करना आता है”

मुझे प्यार करना आता है

मुझे प्यार करना आता है दिल दुनियां सजाना आता है।

टूटे  हुए  रिश्तों  को  धागे  में  पिरोना  आता   है।

कोसी टाइम्स

चाहे जितनी आंधी चले, चाहे जितने तूफान  उठे।

मझधार में फंसी नैया को किनारे पे लगाना आता है।

चाहे तुम मुझ से रूठ जाओ चाहे तुम मुझसे दूर जाओ,

रूठे  सनम  को  प्यार  से  मुझे  मनाना  आता  है।

कोसी टाइम्स

तुम कुछ न कहो अब चुप ही रहो, आँखों को भी बंद करो।

दिल से दिल का तार जोड़ फरियाद  सुनाना  आता  है।

लोगों ने कितने ताने दिए ढ़ेर सारे  अफसाने  बने,

गुजरा जमाना बस याद आता भूले नहीं भूलाता है।

डा सुधा सिन्हा 

पटना 

Comments

comments

x

Check Also

होली पर्व के अवसर पर विधि व्यवस्था संधारण हेतु आरक्षी अधीक्षक ने दिए कई आवश्यक दिशा निर्देश

सुभाष चन्द्र झा कोशी टाइम्स@ सहरसा. अपर पुलिस महानिदेशक के विशेष निर्देश पर इस वर्ष होली एवं होलिका दहन पर विशेष ...