Home » Breaking News » टीवी पर कैसे छा गए trivago वाले बिहारी बाबू अभिनव

टीवी पर कैसे छा गए trivago वाले बिहारी बाबू अभिनव

आशीष कुमार । कोसी टाइम्स.

अपने बिहार की माटी ने हर तरह का टैलेंट पैदा किया है। देश-दुनिया में अपनी प्रतिभा का झंडा गाड़ने वाले बिहारियों की कमी नहीं है। बाॅलीवुड की फिल्मी दुनिया के साथ साथ छोटे परदे टीवी पर भी कई बिहारी प्रतिभाओं का सिक्का चलता है। टीवी पर आप कोई भी न्यूज चैनल देख रहे हों या स्पोर्ट्स चैनल, आप चाहे सास-बहू टाइप सीरियल देख रहे हों या फिर किसी मूवी चैनल पर किसी फिल्म का लुत्फ उठा रहे होते हैं कि अचानक से ब्रेक होता है और फिर आपके टीवी स्क्रीन पर भांति भांति के विज्ञापन आने लगते हैं। इन्हीं विज्ञापनों के बीच एक ऑनलाइन होटल बुकिंग का एड आता है, जिसमें शूटबूट पहने एक नौजवान आपकी तरफ देख कर कहता है कि क्या आपने कभी ऑनलाइन होटल सर्च किया है ? ऑनलाइन होटल बुकिंग के लिए trivago के इस विज्ञापन में शूटबूट पहन कर आपसे बुकिंग के लिए पूछने वाला यह नौजवान भी सबकी नजरों में उतर गया है। यह विज्ञापन अब इतना लोकप्रिय हो चुका है कि जैसे ही टीवी स्क्रीन पर ये एड नजर आता है कि आप भी बुदबुदाने लगते हैं कि क्या आपने कभी ऑनलाइन होटल सर्च किया है ? लेकिन क्या आपको पता है कि इस एड में माॅडल का किरदार निभा रहे अभिनव कुमार मूल रूप से बिहार के ही बाशिंदे हैं। बिहार के इस trivago boy ने बहुत कम समय में ही लोकप्रियता के मामले में देश के टॉप मॉडलों को काफी पीछे छोड़ दिया है। बिहार के अभिनव कुमार के इस एड को लेकर लोग सोशल मीडिया पर भी बहुत कुछ लिखने लगे हैं।

ऑनलाइन होटल बुकिंग करनेवाली trivago दरअसल एक जर्मन कंपनी है और अभिनव कुमार इस कंपनी के इंडिया हेड हैं। लेकिन अगर आप सोच रहे हैं कि अभिनव भारत में ही रहते हैं तो हम आपको बता दें कि तकरीबन 10 साल से अभिनव जर्मनी में ही रहते हैं। trivago कंपनी की विज्ञापन पॉलिसी के तहत वे किसी नामी गिरामी मॉडल की बजाय फ्रेश चेहरे को ही मौका देते आ रहे हैं। कंपनी को भारत में अपने विज्ञापन के लिए किसी चेहरे की तलाश थी। लेकिन कंपनी को कोई मॉडल पसंद नहीं आया। फिर उसके बाद trivago कंपनी ने अभिनव कुमार को ही इस विज्ञापन को करने के लिए कहा। शुरू-शुरू में अभिनव थोड़ा बहुत तो हिचकिचाए लेकिन फिर बाद में वे इस चुनौती को स्वीकार करने के लिए तैयार हो गए। trivago कंपनी दुनियाभर के 50 से ज्यादा देशों में ऑनलाइन होटल बुकिंग में डील करती है।

जब TRIVAGO का ये विज्ञापन ऑन एयर हुआ तो लोगों ने इस विज्ञापन को हाथों हाथ लिया। लोकप्रियता ऐसी की इस विज्ञापन को लेकर सोशल मीडिया पर कई तरह के जोक्स भी बनने लगे। अपने देश में जहां अधिकांश ब्रांड का विज्ञापन बड़े-बड़े अभिनेता-क्रिकेटर या कोई सेलेब्रेटी करता है, वहां पर एक आम आदमी ने TRIVAGO कंपनी के नाम को घर-घर तक पहुंचा दिया। अभिनव कुमार मूल रूप से बिहार के लखीसराय के बड़हिया ब्लॉक के रहने वाले हैं। इन दिनों अभिनव कुमार का परिवार झारखंड के देवघर में रहता है। अभिनव ने पुणे से पढाई-लिखाई करने के बाद इटली से एमबीए किया है। उसके बाद इन्होंने trivago कंपनी को ज्वाइन किया और इन दिनों जर्मनी में ही रहते हैं। खास बात ये है कि इतने साल विदेश में गुजारने के बाद भी अभिनव खुद को टिपिकल बिहारी ही मानते हैं और बिहार की कला-संस्कृति औऱ धरोहर से खुद को जोड़े रखने के लिए जर्मनी में भी एक्टिव रहते हैं। वही जर्मनी में रहने वाले आईटी प्रोफेशनल और अभिनव के अच्छे दोस्त प्रकाश शर्मा ने बताया कि हमलोगों ने जर्मनी में Bihar Fraternity Germany ग्रुप बनाया है और जर्मनी की राजधानी बर्लिन में बीएफजी 26 मई को बिहार दिवस के रूप में भव्य कार्यक्रम का आयोजन करने जा रही है। आनेवाले दिनों में Bihar Fraternity Germany के सदस्य बिहार की बेहतरी के लिए भी अपनी तरफ से कुछ करने की योजना बना रहे हैं।

Comments

comments

x

Check Also

मधेपुरा:चौसा में कोचिंग से पढ़कर जा रही छात्रा से छेड़छाड़,विरोध करने पर मनचले ने किया स्थानीय लोगों से मारपीट,तीन लोग जख्मी

इमदाद अलाम कोसी टाइम्स@चौसा,मधेपुरा प्रखंड क्षेत्र के चौसा पूर्वी पंचायत के अभिया टोला चौक पर मंगलवार को चौसा बाजार कोचिंग ...